×

केजरीवाल और वैलेंटाइन डे, कनेक्शन ऐसा जान कर खुल जाएंगे कान के तार

दिल्ली में विधानसभा चुनाव हो चुके हैं और आज इसके नतीजे भी शाम तक आ जाएंगे। दिल्लीवालों ने अरविंद केजरीवाल को भर-भर के वोट भी दिए है।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 11 Feb 2020 5:46 AM GMT

केजरीवाल और वैलेंटाइन डे, कनेक्शन ऐसा जान कर खुल जाएंगे कान के तार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: दिल्ली में विधानसभा चुनाव हो चुके हैं और आज इसके नतीजे भी शाम तक आ जाएंगे। दिल्लीवालों ने अरविंद केजरीवाल को भर-भर के वोट भी दिए है। जनता यही चाहती है कि दिल्ली के सीएम एक बार फिर से केजरीवाल ही बने। उन्होंने दिल्ली में बहुत सारे काम जनता के हित के लिए किया है। इसलिए सब उनको ही वापस सरकार में चाहते हैं। अब शुरुआती रुझानों से ऐसा लग रहा है कि दिल्ली में एक बार फिर से AAP की सरकार बनने जा रही है। अगर ऐसा हुआ तो अरविंद केजरीवाल का एक बार फिर से सीएम बनना तय है।

14 फरवरी को शपथ ले सकते हैं केजरीवाल

ऐसा कहा जा रहा है कि अगर केजरीवाल की जीत हुई तो वे वैलेंटाइन डे यानी 14 फरवरी को शपथ ले सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि इस दिन से उनका बेहद खास नाता है। वो चाहते भी हैं कि इसी दिन वो शपथ लें। तो आइए आपको बताते हैं आखिर क्यों केजरीवाल को इस दिन से लगाव है और वो क्यों वैलेंटाइन डे के दिन ही शपथ लेना पसंद करते हैं।

ये भी पढ़ें:शाहीन बाग में पसरा सन्नाटा, दिल्ली चुनाव के नतीजे आते ही हुआ ये हाल

साल 2013 और वैलेंटाइन डे

साल 2013 में पहली बार दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार बनी। बीजेपी को 31, आम आदमी पार्टी ने 28 और कांग्रेस को 8 सीटों पर जीत मिली। आप ने कांग्रेस से हाथ मिलाकर सरकार बनाई। अरविंद केजरीवाल ने 28 दिसंबर को पहली बार दिल्ली के सीएम पद की शपथ ली। लेकिन कांग्रेस और AAP के बीच अनबन हो गई। सिर्फ 49 दिनों में ही सरकार गिर गई। इसके बाद केजरीवाल ने इस्तीफा देने का फैसला किया। खास बात ये है कि केजरीवाल ने 14 फरवरी 2014 के दिन ही इस्तीफा दिया।

साल 2015 और वैलेंटाइन डे

साल 2015 में चुनाव का ऐलान होते ही आप के प्रवक्ता राघव चड्ढा ने ऐलान कर दिया था कि केजरीवाल रामलीला मैदान में 14 फरवरी को शपथ लेंगे और हुआ भी वही। आप को धमाकेदार 67 सीटों पर जीत मिली। बीजेपी को सिर्फ 3 सीटों पर जीत से संतोष करना पड़ा। वहीं कांग्रेस का सफाया हो गया। इसके बाद केजरीवाल ने 14 फरवरी 2015 को दूसरी बार सीएम पद की शपथ ली।

Arvind kejriwal

ये भी पढ़ें:AAP का साथ छोड़ने वाले ये नेता: जानें, दिल्ली चुनाव में आज क्या हुआ इनका हाल…

साल 2018 और वैलेंटाइन डे

सरकार बनने के 3 साल बाद यानी 2018 में केजरीवाल ने एक खास कार्यक्रम किया। खास बात ये है कि इस कार्यक्रम का आयोजन 14 फरवरी यानी वैलेंटाइन डे के ही दिन किया गया। यानी खुद सीएम अरविंद केजरीवाल इस दिन को बेहद खास मानते हैं।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story