बहुत बड़ी खुशखबरी: नवंबर में आ जायेगी कोरोना वैक्सीन, हुआ ऐलान

ट्रम्प ने कहा है अमेरिका में वैक्सीन के डिस्ट्रीब्यूशन की तैयारी कर ली गयीं है। ‘ऑपरेशन वार्प स्पीड’ के तहत वैक्सीन के डिस्ट्रीब्यूशन का जिम्मा अमेरिकी मिलिट्री के टॉप जनरलों को दिया गया है ताकि सभी नागरिकों को बिना किसी असुविधा के जल्द से जल्द वैक्सीन मिल जाये।

Coronavirus Vaccine

बहुत बड़ी खुशखबरी: नवंबर में आ जायेगी कोरोना वैक्सीन, हुआ ऐलान (फोटो: सोशल मीडिया)

नीलमणि लाल

लखनऊ: कोरोना की वैक्सीन अब शायद चंद हफ़्तों में आ जायेगी। भले ही आम जनता तक ये कुछ महीनों बाद पहुंचे, लेकिन वैक्सीन लांच होने की घोषणा अगले महीने हो जायेगी। अमेरिकी प्रेसिडेंट डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि कोरोना की वैक्सीन तैयार है और चंद हफ़्तों में इसकी घोषणा कर दी जायेगी। ट्रम्प इसके पहले भी कह चुके हैं कि चार हफ्ते में वैक्सीन उपलब्ध हो जायेगी। डोनाल्ड ट्रम्प ने अमेरिकी कंपनी जॉनसन एंड जॉनसन और फाइजर का नाम लिया है कि इनकी वैक्सीन का प्रोडक्शन एडवांस में शुरू भी कर दिया गया है।

ट्रम्प ने कहा है अमेरिका में वैक्सीन के डिस्ट्रीब्यूशन की तैयारी कर ली गयीं है। ‘ऑपरेशन वार्प स्पीड’ के तहत वैक्सीन के डिस्ट्रीब्यूशन का जिम्मा अमेरिकी मिलिट्री के टॉप जनरलों को दिया गया है ताकि सभी नागरिकों को बिना किसी असुविधा के जल्द से जल्द वैक्सीन मिल जाये।

फाइजर का ऐलान

फाइजर ने ऐलान भी कर दिया है कि वो अपनी वैक्सीन की मंजूरी के लिए नवम्बर में अमेरिकी नियामक के पास आवेदन दाखिल करेगा। फाइजर का कहना है कि 40 हजार लोगों पर वैक्सीन का क्लीनिकल ट्रायल किया जा रहा है और इसके सेफ्टी डेटा आने के बाद अगला कदम उठाया जाएगा। फाइजर की घोषणा के बाद अमेरिकी स्टॉक बाजार में तेजी आ गयी है।

ये भी पढ़ें…CM कैप्टन अमरिंदर के बेटे पर ED का शिकंजा, भेजा समन, लगे हैं ये गंभीर आरोप

मोडरना भी काफी करीब

अमेरिका में वैक्सीन बनाने के काफी करीब मोडरना कंपनी भी पहुंच गयी है लेकिन अब इसकी वैक्सीन नवम्बर में आ पाना मुश्किल है। फाइजर और मोडरना, दोनों कम्पनियाँ यूरोप में भी अप्रूवल के लिए आवेदन करने जा रहीं हैं जहाँ उनकी प्रतिस्पर्धा इंग्लैंड की आस्ट्रा ज़ेनेका से है।

Covid-19 Vaccine

अमेरिका में फ़ूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन यानी एफडीए के एक्सपर्ट्स ने वैक्सीन के इमरजेंसी इस्तेमाल के पहले के जरूरी ट्रायल के बारे में बैठक की है। कोरोना की वैक्सीन को जल्द से जल्द जनता के बीच लाने के लिए एफडीए इमरजेंसी अप्रूवल देगा सो इसके लिए क्या क्या मानक रखे जायेंगे इस बारे में भी बैठक की गयी है।

ये भी पढ़ें…बच्ची की रेप और हत्या मामले में दोषी को मौत की सजा, कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला

चुनावी वैक्सीन

अमेरिका में चुनाव हो रहे हैं लेकिन किसी भी प्रत्याशी या पार्टी ने कोरोना अकी वैक्सीन को लेकर किसी तरह की राजनीति नहीं की है लेकिन भारत में बिहार में विधानसभा चुनाव से पहले वैक्सीन की सियासत शुरू हो गयी है।

भाजपा ने बिहार के लिए जारी अपने चुनावी संकल्प पत्र में कहा है कि बिहारवासियों के लिए कोरोना का टीका निशुल्क होगा. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पटना में संकल्प पत्र जारी करते हुए इसकी घोषणा की है। वैसे, तमिलनाडु सरकार ने चुनाव से महीनों पहले फ़्री वैक्सीन का वादा कर दिया है। उधर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि उनके राज्य में उन ग़रीब लोगों को, जो वैक्सीन का ख़र्च वहन नहीं कर पाएँगे, उनको फ़्री में कोरोना वैक्सीन मुहैया कराई जाएगी।

ये भी पढ़ें…इमरान खान की मुसीबतें बढ़ीं, FATF ने दिया बड़ा झटका, कंगाल हो जाएगा पाकिस्तान

भारत में बन रहीं 1 अरब खुराकें

भारत में सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंडिया पांच तरह की कोरोना वैक्सीन की एक अरब डोज़ तैयार कर रहा है। कंपनी के सीईओ अदर पूनावाला ने कहा है कि अगले साल की शुरुआत से उनकी कंपनी वैक्सीन लांच कर देगी और उसके बाद से हर तिमाही पर कम से कम एक वैक्सीन लांच की जायेगी। सीरम इंस्टिट्यूट की वैक्सीनों में कोवीशील्ड, कोवोवैक्स, कोवीवैक्स, कोवी वैक और एसआईई कोवैक्स शामिल हैं। इनमें कोवीशील्ड का डेवलपमेंट ऑक्सफ़ोर्ड-आस्ट्रा ज़ेनेका के सहयोग से किया जा रहा है। इस वैक्सीन का तीसरे फेज़ का ट्रायल भारत में चल रहा है। पूनावाला का कहना है कि कंपनी 2-3 करोड़ डोज़ पहले से ही बना रही है और महीने भर में प्रोडक्शन बढ़ा कर 7–8 करोड़ किया जा सकता है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App