कांग्रेस की अहम बैठक आज, पार्टी में आंतरिक चुनाव की मांग को लेकर खेमेबंदी तेज

अध्यक्ष पद के लिए राजस्थान के मुख्यमंत्री और गांधी परिवार के भरोसेमंद माने जाने वाले अशोक गहलोत का नाम भी उछला है। सूत्रों का कहना है कि राहुल के न मानने की स्थिति में गहलोत को अध्यक्ष बनाने की कवायद भी चल रही है।

Published by Ashiki Patel Published: January 22, 2021 | 9:14 am
cwc meeting

File Photo

नई दिल्ली: कांग्रेस कार्यसमिति की आज होने वाली बैठक को काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होने वाली इस बैठक में किसान आंदोलन के साथ ही पार्टी के आंतरिक चुनाव पर चर्चा होने की संभावना है। पार्टी में सबसे ज्यादा गहमागहमी आंतरिक चुनाव को लेकर है और पार्टी का एक खेमा इस मुद्दे पर खुलकर चर्चा चाहता है। पार्टी का असंतुष्ट खेमा कई बार पार्टी में जल्द से जल्द स्थायी अध्यक्ष बनाने की मांग कर चुका है। ऐसे में हर किसी की नजर इस बात पर टिकी है कि इस बाबत इस महत्वपूर्ण बैठक में क्या फैसला होता है।

अंतरिम अध्यक्ष के सहारे चल रही पार्टी

गत लोकसभा चुनाव में पार्टी की हार के बाद राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था और तब से अंतरिम अध्यक्ष के रूप में सोनिया गांधी ही पार्टी का कामकाज संभाल रही हैं। पार्टी में आंतरिक चुनाव की मांग को लेकर 23 असंतुष्ट नेताओं ने गत वर्ष सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी थी मगर काफी वक्त बीत जाने पर भी अभी तक इस दिशा में ठोस कदम नहीं उठाया जा चुका है।

CWC Meeting

ये भी पढ़ें: छत्तीसगढ़: कबड्डी मैच के दौरान खिलाड़ी की मौत, वीडियो में कैद हुई दर्दनाक घटना

कार्यसमिति को लेना है आखिरी फैसला

पार्टी के इलेक्शन अथॉरिटी की ओर से सोनिया गांधी को रिपोर्ट सौंपी जा चुकी है और अब इस बाबत कांग्रेस कार्यसमिति को ही आखिरी फैसला लेना है। देखने वाली बात यह होगी कि कार्यसमिति इस संबंध में क्या फैसला लेती है। पार्टी में अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए पहली बार एआईसीसी सदस्यों की पूरी सूची तैयार की गई है और डिजिटल आईडी कार्ड बनाए गए हैं। पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने पिछले दिनों एक अंग्रेजी अखबार को दिए इंटरव्यू में एक बार फिर पार्टी में नया स्थायी अध्यक्ष बनाने की मांग उठाई थी।

सिब्बल ने फिर उठाई जल्द चुनाव की मांग

सिब्बल का कहना था कि मुझे नहीं पता कि इस बाबत अभी तक क्या प्रगति हुई है मगर इस बाबत जल्द से जल्द फैसला लिया जाना चाहिए क्योंकि स्थायी अध्यक्ष न होने के कारण पार्टी को सियासी रूप से काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है। पार्टी के एक अन्य महत्वपूर्ण नेता गुलाम नबी आजाद भी पार्टी में आंतरिक चुनाव की वकालत करते रहे हैं। ऐसे में देखने वाली बात यह होगी कि आज की कार्यसमिति की बैठक में इस बाबत कोई फैसला होता है या नहीं।

Gulam Nabi Azad-Kapil Sibbal

राहुल समर्थक खेमा भी सक्रिय

पार्टी ने राहुल समर्थक खेमा दोबारा राहुल गांधी को ही पार्टी की कमान सौंपने की वकालत कर रहा है। राहुल समर्थक उन्हें दोबारा पार्टी की कमान संभालने के लिए मनाने में जुटे हुए हैं मगर अभी तक राहुल गांधी ने इस बाबत अपनी मंजूरी नहीं दी है। ऐसे में अध्यक्ष पद के लिए राजस्थान के मुख्यमंत्री और गांधी परिवार के भरोसेमंद माने जाने वाले अशोक गहलोत का नाम भी उछला है। सूत्रों का कहना है कि राहुल के न मानने की स्थिति में गहलोत को अध्यक्ष बनाने की कवायद भी चल रही है।

कई राज्यों में होने हैं जल्द चुनाव

आने वाले दिनों में पश्चिम बंगाल और तमिलनाडु समेत कई राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं। सत्तारूढ़ भाजपा की ओर से इन चुनावों के लिए अभी से ही जोरदार तैयारियां की जा रही हैं जबकि चुनावी तैयारियों के मामले में कांग्रेस काफी पिछड़ी हुई दिख रही है। हाल में हुए बिहार विधानसभा के चुनाव में पार्टी का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा था। यही कारण है कि पार्टी में नए स्थायी अध्यक्ष की मांग तेज हो रही है। जानकारों का कहना है कि पार्टी ने इस बाबत जल्द ही फैसला नहीं लिया तो आने वाले अन्य विधानसभा चुनावों में भी पार्टी को झटका लगने से इनकार नहीं किया जा सकता।

Live: कुछ ही देर में शुरू होगी CWC की बैठक, पार्टी दफ्तर के बाहर जुटे कार्यकर्ता

ये भी पढ़ें: अभी ठंड से नहीं मिलेगी राहत, इस राज्यों में होगी भारी बारिश, अलर्ट हुआ जारी

बैठक में उठेगा किसानों का मुद्दा

पार्टी से जुड़े सूत्रों का कहना है कि वर्चुअल तरीके से होने वाली इस बैठक की अध्यक्षता अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी करेंगी और इस बैठक में किसानों के मुद्दे पर भी चर्चा होगी। केंद्र सरकार की ओर से पारित तीन कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग को लेकर किसानों ने पिछले साल 26 नवंबर से ही दिल्ली की सीमा पर डेरा डाल रखा है और केंद्र सरकार से कई दौर की बातचीत के बावजूद इस मामले में अभी तक गतिरोध नहीं टूट सका है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी और पार्टी के अन्य नेता किसानों की मांगों को लेकर केंद्र सरकार पर हमलावर हैं। ऐसे में किसानों के मुद्दे पर भी कार्यसमिति की बैठक में चर्चा होने की संभावना है।

इन मुद्दों पर भी हो सकती है चर्चा

बैठक में अर्णब गोस्वामी चैट लीक और कोविड-19 महामारी पर भी चर्चा होने की संभावना है। कांग्रेस ने चैट लीक मामले में देश की सुरक्षा से जुड़ी सूचना लीक करने को देशद्रोह बताते हुए मामले की तत्काल जांच करने की मांग की है। पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटोनी ने कहा कि अर्नब गोस्वामी और बीएआरसी के पूर्व सीईओ के बीच लीक हुई चैट की सामग्री देश के लिए गंभीर मुद्दा है। यह हर देशभक्त भारतीय के लिए एक झटका और चिंता का विषय है। माना जा रहा है कि इस मुद्दे पर भी कार्यसमिति की बैठक में चर्चा होगी।

अंशुमान तिवारी

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App