×

दिल्ली में मचा हाहाकार: कोरोना से बढ़ रहा मौतों का आंकड़ा, 23 दिनों में हुईं इतनी मौतें

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस महामारी के चलते नवंबर के 23 दिन में 2001 लोगों की मौतें हुई हैं। वहीं बीते 24 घंटे के दौरान 121 लोगों ने अपनी जान गंवाई है। 

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 24 Nov 2020 1:04 PM GMT

दिल्ली में मचा हाहाकार: कोरोना से बढ़ रहा मौतों का आंकड़ा, 23 दिनों में हुईं इतनी मौतें
X
दिल्ली में मचा हाहाकार: कोरोना से बढ़ रहा मौतों का आंकड़ा, 23 दिनों में हुईं इतनी मौतें
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: देश के कई राज्यों में एक बार फिर से कोरोना वायरस संक्रमण तेजी से फैल रहा है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में भी लोग एक बार फिर कोरोना के कहर का सामना कर रहे हैं। राजधानी में महामारी के चलते होने वाले वाली मौतों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। इस बीच कोरोना से हुईं मौतों का सामने आया आंकड़ा डराने वाला है। दरअसल, सामने आया आंकड़ा अब तक हुईं सबसे ज्यादा मौतों का है।

23 दिन में दिल्ली में मचा हाहाकार

बता दें कि नवंबर के 23 दिन में 2001 लोगों की कोरोना वायरस के चलते मौतें हुई हैं। जो कि दिल्ली में एक महीने में होने वाली अब तक सबसे ज्यादा मौतों का आंकड़ा है। बीते पांच महीनों से किसी भी महीने में इससे ज्यादा मौतें नहीं हुई हैं। राज्य में संक्रमण इस कदर बढ़ चुका है कि बीते चार दिनों से प्रदेश में हर रोज 100 से ज्यादा मौतें हो रही हैं। वहीं अगर बीते 24 घंटे की बात की जाए तो इस दौरान 121 लोगों ने अपनी जान गंवाई है।

यह भी पढ़ें: रांची का ऐसा रहीस: BMW कार से कर रहा कचरा सफाई, इसलि उठाया क़दम

दिल्ली में बीते पांच महीनों में हुई मौतों का आंकड़ा

जुलाई- 1221

अगस्त- 481

सितंबर- 917

अक्टूबर- 1150

23 नवंबर तक- 2001

जहां कोरोना ने दिल्ली वासियों की हालत खराब की हुई है तो इस बीच एक्सपर्ट्स ने दिसंबर में हालात और बिगड़ने की बात कही है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि दिल्ली में दिसंबर महीने की ठंड में कोरोना की स्थिति और ज्यादा खराब हो सकती है।

यह भी पढ़ें: आया चक्रवाती तूफान: तूफान-बारिश के कहर से कांपा देश, तत्काल छुट्टी के आदेश

राज्य में बढ़ते मौतों के आंकड़ों पर स्वास्थ्य मंत्री ने कही ये बात

वहीं राज्य में बढ़ते मौतों के आंकड़ों पर राज्य के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने कहा कि पराली जलाने की वजह से हुए प्रदूषण के चलते कोरोना के मामले खराब हुए हैं। उन्होंने कहा कि जो कोरोना वायरस संक्रमित मरीज थे, उनके मामले काफी बिगड़े और इस वजह से डेथ रेट में भी बढ़ोत्तरी हुई है। उन्होंने कहा कि बीते तीन-चार दिनों से पॉल्यूशन में कमी आई है, जिसका असर देखने को मिलेगा और मौत भी कम होंगी।

यह भी पढ़ें: कोरोना फंड से हर नागरिक को मोदी सरकार देगी 1.30 लाख रुपये? जानिए पूरी बात

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story