Manish Sisodia: मनीष सिसोदिया की बढ़ी न्यायिक हिरासत, 5 अप्रैल तक के लिए जेल

Manish Sisodia: दिल्ली की पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया की न्यायिक हिरासत बढ़ गई है। अभी 5 अप्रैल तक उनको जेल में ही रहना होगा।

Jugul Kishor
Published on: 22 March 2023 2:47 PM GMT (Updated on: 22 March 2023 3:22 PM GMT)
Manish Sisodia: मनीष सिसोदिया की बढ़ी न्यायिक हिरासत, 5 अप्रैल तक के लिए जेल
X
Manish Sisodia
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

Delhi News: दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) को बुधवार को राउज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट द्वारा मनीष सिसोदिया की न्यायिक हिरासत को 5 अप्रैल तक के लिए बढ़ा दिया है। मालूम हो कि आज यानि 22 मार्च को मनीष सिसोदिया की रिमांड खत्म हो रही थी। आप नेता समेत परिजनों को भी उम्मीद थी कि मनीष सिसोदिया वापस घर आ सकते है लेकिन बड़ी झटका मिला। फिलहाल 5 अप्रैल तक उन्हें जेल ही गुजारना होगा।

सिसोदिया को किताबें ले जाने की मिली अनुमति

राउज एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई के दौरान मनीष सिसोदिया ने जेल में पढ़ने के लिए कुछ और किताबें पढ़ने के लिए एप्लिकेशन दी, इस पर कोर्ट ने कहा कि जो किताबें वे चाहते हैं, उनको दी जाएं। इससे पहले, ईडी ने मनीष सिसोदिया को कोर्ट में किया पेश किया।

12 दिन पहले ईडी नेतिहाड़ जेल में मनीष सिसोदिया से पूछताछ की और फिर पूछताछ में सहयोग नहीं करने का आरोप लगाते हुए उन्हें गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद कोर्ट में पेश कर पुलिस कस्टडी रिमांड पर लिया था। बुधवार को ईडी की रिमांड पूरी होने के बाद उन्हें फिर से कोर्ट में पेश किया गया, जहां से अब 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया है।

मनीष सिसोदिया पर आरोप है कि उन्होंने जानबूझ कर दिल्ली सरकार की आबकारी नीति में कुछ ऐसे प्रावधान जोड़े जिससे कुछ शराब कारोबारियों को नाजायज लाभ हुआ। आरोप है कि यह प्रावधान एलजी के अप्रूवल के बाद जोड़े गए थे। इसी के अलावा इस भ्रष्टाचार को जिन मोबाइल फोन के जरिए अंजाम दिया गया, उन्हें तोड़ने का भी आरोप है। इसी मामले में तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर की बेटी भी आरोपी हैं।

बता दें कि दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को सीबीआई ने पिछले महीने 26 फरवरी को पूछताछ के लिए बुलाया था। इसी दौरान उनके ऊपर पूछताछ में सहयोग नहीं करने का आरोप लगाते हुए गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद करीब दस दिन तक सीबीआई रिमांड में रहने के बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया गया, जहां से अदालत ने न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया था।

Jugul Kishor

Jugul Kishor

Next Story