Top

दिल्ली में संकट गहराया: जहरीली धुंध से ढका आसमान, बढ़ रही सांस की दिक्कतें

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में तेजी से प्रदूषण बढ़ता जा रहा है। जिसके चलते लोगों को सांस लेने में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है। वहीं माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में हवा की क्वालिटी और खराब हो सकती है। 

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 22 Oct 2020 11:43 AM GMT

दिल्ली में संकट गहराया: जहरीली धुंध से ढका आसमान, बढ़ रही सांस की दिक्कतें
X
दिल्ली में संकट गहराया: जहरीली धुंध से ढका आसमान, बढ़ रही सांस की दिक्कतें
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में तेजी से प्रदूषण बढ़ता जा रहा है। बढ़ते पॉल्यूशन ने सरकार के लिए भी चिंता खड़ी दी है। बता दें कि अभी से प्रदूषण के चलते लोगों को सांस लेने की समस्या शुरू हो गई है। आज गुरुवार सुबह भी दिल्ली-एनसीआर में स्मॉग छाया रहा। माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में हवा की क्वालिटी (Air Quality) और गिर सकती है। जिसकी वजह हवा की दिशा में बदलाव और गति में कमी रहेगी।

गुरुवार को खराब श्रेणी में रही एयर क्वालिटी

वहीं अगर आज की बात की जाए तो गुरुवार सुबह दिल्ली के ITO में वायु गुणवत्ता सूचकांक (Air Quality Index) 254 और पटपड़गंज में 246 दर्ज किया गया है। बता दें कि दोनों ही जगह एयर क्वालिटी खराब श्रेणी में रही। वहीं रोज सुबह टहलने और साइकलिंग करने वाले लोगों का कहना है कि उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने लगी है।

केजरीवाल सरकार हल निकालने में जुटी

वहीं इससे पहले वायु प्रदुषण की जांच करने वाली संस्था SAFAR ने बुधवार के लिए संभावना जताई थी कि हवा की दिशा में बदलाव और गति में कमी के चलते वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) बहुत खराब श्रेणी में रह सकता है। वहीं राज्य में जहरीली हवा को ध्यान में रखते हुए दिल्ली की केजरीवाल सरकार इसका समाधान निकालने की कोशिशों में जुट गई है।

यह भी पढ़ें: शाह के 3 कठोर फैसलें: इससे पूरे देश भर में बढ़ा कद, विपक्ष की उड़ी थी नींद

delhi air quality (फोटो- साभार- सोशल मीडिया)

आने वाले समय में और खराब हो सकती है हवा की क्वालिटी

वहीं एनवायरमेंट पॉल्यूशन कंट्रोल अथॉरिटी (EPCA) ने अनुमान जताया है कि आने वाले दिनों में हवा और खराब हो सकती है। साथ ही उत्तर प्रदेश और हरियाणा के राज्य सरकारों से कहा गया है कि ऐसे तापीय ऊर्जा संयंत्रों को बंद किया जाए जो 2015 में तैयार मानकों पर खरे नहीं उतरते हैं। साथ ही अथॉरिटी ने दोनों राज्यों को बेहद ठंड के दौरान जरुरी बंद का पालन सुनिश्चित करने के लिए उठाए जाने वाले कदमों की जानकारी देने को कहा।

यह भी पढ़ें: सीएम रावत का आग्रह: वन्यजीव रेस्क्यू सेंटर वानिकी गतिविधियों में शामिल हो

एयर क्वालिटी इंडेक्स

AQI की बात करें तो 201 से 300 का मतलब खराब, 300 से 400 का मतलब बेहद खराब, 401-500 का मतलब गंभीर और 500 से ऊपर हो तो ये गंभीरतम या आपातकालीन स्थिति में दर्ज होता है। बता दें कि तकरीबन हर साल दिवाली से पहले दिल्ली की हवा की क्वालिटी गिरने लगती है। कभी-कभी यह खराब तो कभी-कभी ये आपातकालीन स्थिति में तक आ जाती है।

यह भी पढ़ें: 50 परिवारों के धर्मांतरण के मामले में आया नया मोड़, 10 लाख रुपये देने का आरोप

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story