आग में झुलसी दिल्ली: फैक्ट्री में हुआ भीषण हादसा, दमकल गाड़ियों की लंबी लाइन

दिल्ली में बीती रात बहुत ही भयानक हादसा हो गया। नरेला में रात के समय एक फैक्ट्री में भीषण आग लग गई। जिसकी वजह से हड़कंप मच गया। आग लगते ही इसकी सूचना दमकल विभाग को दी गई।

fire factory

फोटो-सोशल मीडिया

नई दिल्ली। दिल्ली में बीती रात बहुत ही भयानक हादसा हो गया। नरेला में रात के समय एक फैक्ट्री में भीषण आग लग गई। जिसकी वजह से हड़कंप मच गया। आग लगते ही इसकी सूचना दमकल विभाग को दी गई। जिसके चलते दमकल की 26 गाड़िया मौके पर पहुंच गई। हालाकिं कड़ी मशक्कत के फैक्ट्री में लगी आग पर काबू पा लिया गया। अभी तक आग लगने का कारण तो पता नहीं चल पाया, लेकिन मिली जानकारी के अनुसार, किसी तरह की क्षति की कोई खबर नहीं है।

ये भी पढ़ें… बेहद गरीब अनिल अंबानी: वकीलों को देने के लिए पैसे नहीं, गहनें बेचकर दे रहे फीस

आग पर काबू पा लिया

नरेला में बीती रात फैक्ट्री में लगी आग ने अफरा-तफरी मचा दी। जिसके बाद से इलाके में दमकल की गाड़िया ही नजर आ रही थी। मौके पर 26 दमकलगाड़ियों ने पहुंचकर आग पर काबू पा लिया और बड़ी घटना होने से रोक लिया। साथ ही राहत की खबर तो ये है कि किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है।

इससे पहले झारखंड के रांची में बड़ी हादसा हो गया। यहां पतरातू के इंडस्ट्रियल एरिया स्थित गुप्ता इंडस्ट्रीज के टायर फैक्ट्री में शुक्रवार को भयानक आग लग गई। ऐसे में आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट बताया जा रहा है। ये सुबह करीब 4:30 बजे टायर फैक्ट्री में बिजली के तार टूट कर गिर गए। जिसकी वजह से शॉर्ट सर्किट हो गया।

FIRE
फोटो-सोशल मीडिया

इसकी वजह से शॉर्ट सर्किट के होते ही एक जगह जमा किए गए पुराने टायरों में आग धधक उठी। और देखते ही देखते इस आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। ऐसे में वहां काम करने वाले कुछ कर्मचारियों की नजर पड़ते ही तुरंत इसकी सूचना बिजली विभाग को दी गई और लाइन को डिस्कनेक्ट कराया गया।

ये भी पढ़ें…भारतीयों के लिए वीजा फ्री देश :घूमने का रखते हैं शौक तो कोरोना के बाद जरूर करें इनकी सैर

कंपनी को लाखों का नुकसान हुआ

फिर तुरंत ही पीवीयूएनएल और जेएसपीएल के फायर ब्रिगेड दस्ते को भी बुलाया गया। करीब 4 घंटे की मशक्कत के बाद दमकल कर्मियों ने आग पर काबू पाने में सफलता प्राप्त की। इस टायर फैक्ट्री में पुराने टायर इकट्ठा किए जाते हैं, और उन्हें गलाया जाता है।

इस बारे में बताया गया कि लॉकडाउन अवधि में फिलहाल यह फैक्ट्री बंद है। फैक्ट्री की देखभाल के लिए कुछ कर्मचारी वहां रहते हैं। कर्मचारियों के अनुसार पुराने टायरों के जलकर राख हो जाने से कंपनी को लाखों का नुकसान हुआ है।

लेकिन नुकसान का बिल्कुल सटीक आकलन नहीं किया जा सका है। कई कर्मियों ने यह भी बताया कि मुख्य मशीन तक आग नहीं पहुंची। नहीं तो इससे भी बड़ा नुकसान कंपनी को उठाना पड़ता। फिलहाल यहां पर किसी पर जन हानि की कोई खबर नहीं है।

ये भी पढ़ें…परेशान जिला प्रशासन, 252 बच्चों पर सिर्फ 15 गाय, कैसे मिलेगा लाभ

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App