Top

अलर्ट पर दिल्ली बॉर्डर: किसानों को लेकर हर तरफ फोर्स तैनात, जाने वहाँ का हाल

किसान ट्रैक्टर रैली में हुई हिंसा के बाद से अभी तक 3 किसान संगठन आंदोलन से दूर हो गए हैं। राजधानी में हुई हिंसा से नाराज दो किसान संगठनों ने कल बुधवार को अपना आंदोलन खत्म किया था, और साथ ही आज गुरुवार को एक और संगठन आंदोलन से अलग हो गया है।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 28 Jan 2021 12:48 PM GMT

अलर्ट पर दिल्ली बॉर्डर: किसानों को लेकर हर तरफ फोर्स तैनात, जाने वहाँ का हाल
X
लाल किले पर जिस तरह तिरंगे का अपमान हुआ है, वो नहीं सहेंगे। जिसके चलते हिंदु सेना संगठन समेत अन्य गांव वालों ने यहां पर हाईवे खाली करने की मांग की है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: 26 जनवरी के दिन दिल्ली में किसान ट्रैक्टर रैली में हुई हिंसा के बाद से अभी तक 3 किसान संगठन आंदोलन से दूर हो गए हैं। राजधानी में हुई हिंसा से नाराज दो किसान संगठनों ने कल बुधवार को अपना आंदोलन खत्म किया था, और साथ ही आज गुरुवार को एक और संगठन आंदोलन से अलग हो गया है। ऐसे में दिल्ली की तमाम सीमाओं पर स्थानीय लोग जगह खाली करने को लेकर मांग कर रहे हैं। साथ ही सीमा पर भारी फोर्स भी तैनात है।

ये भी पढ़ें... किसान आंदोलन खत्म: मथुरा जिला प्रशासन की बड़ी उपलब्धि, यमुना एक्सप्रेसवे खाली

प्रदर्शन खत्म

हिंसात्मक रैली के बाद राष्ट्रीय मजदूर किसान संगठन और भारतीय किसान यूनियन (भानु) ने बीते दिन बुधवार को ही हिंसा के बाद अपना प्रदर्शन खत्म कर दिया था। वहीं आज गुरुवार को भारतीय किसान यूनियन (लोक शक्ति) ने अपना आंदोलन समाप्त करने का ऐलान कर दिया।

ऐसे में अभी भी सिंघु बॉर्डर पर बड़ी तादात में लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। इस पर प्रदर्शनकारियों का दावा है कि ये लोग स्थानीय लोग हैं और 26 जनवरी को जो कुछ हुआ उसके बाद ये नहीं चाहते कि किसान यहां पर प्रदर्शन करें। जबकि लोग 'सिंघु बॉर्डर खाली करो' का नारा लगा रहे हैं।

फोटो-सोशल मीडिया

ये भी पढ़ें...किसान आंदोलन: राकेश टिकैत ने कहा- प्रशासन ने किसानों को जाल में फंसाया

तिरंगे का अपमान नहीं सहेगा हिंदुस्तान

साथ ही हाथों में तिरंगा लिए लोग प्रदर्शन कर रहे हैं 'तिरंगे का अपमान नहीं सहेगा हिंदुस्तान' नारेबाजी करते हुए बॉर्डर को खाली करने की मांग कर रहे हैं।

इसके साथ ही गाजीपुर बॉर्डर पर पुलिस की तैनाती लगातार बढ़ती चली जा रही है। लेकिन लोगों का प्रदर्शन जारी है। वहीं कई जगहों पर दिखाई दे रहा है कि किसानों का मनोबल कम हो गया है। हालाकिं टेंट कम होते जा रहे हैं। और लोगों की संख्या कम हो रही है।

इधर स्थानीय गांववाले हाइवे खाली करने की मांग कर रहे हैं। सीमा पर मौजूद किसान नेता राकेश टिकैत को दिल्ली पुलिस की तरफ से नोटिस दिया गया है। लेकिन नोटिस का जवाब देने के लिए 3 दिन का समय दिया गया है।

ये भी पढ़ें...किसान आंदोलन का पैकअप! भारतीय किसान यूनियन ने कहा- आंदोलन से होगें बाहर

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Desk Editor

Next Story