भोपाल में दिग्विजय के खिलाफ लगे पोस्टर, मंदिरों में प्रवेश न करने देने की अपील

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह अपने बयान के कारण फिर से विवादों में आ गए हैं। उन्होंने दुराचार के मामलों में भगवा धारियों के लिप्त होने पर सवाल उठाया, तो हिंदू समाज ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

मध्य प्रदेश: मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह अपने बयान के कारण फिर से विवादों में आ गए हैं। उन्होंने दुराचार के मामलों में भगवा धारियों के लिप्त होने पर सवाल उठाया, तो हिंदू समाज ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है।

राजधानी भोपाल के अंदर रात के अंधेरे में दिग्विजय सिंह के विरोध में पोस्टर लगाए गए है। परशुराम मंदिर, हनुमान मंदिर, साईं मंदिर सहित कई मंदिरों के बाहर अज्ञात लोगों के द्वारा यह पोस्टर चस्पा किए गए हैं। इन पोस्टर को इसी बयान के जवाब के तौर पर देखा जा रहा है।

अपने बयान में दिग्विजय सिंह ने कहा था ” जिन लोगों ने सनातन धर्म को बदनाम किया है, उन्हें भगवान भी माफ नहीं करेगा। आज भगवा पहनने वाले लोग चूरन बेच रहे हैं। भगवा वस्त्र पहने लोग रेप कर रहे हैं।”

ये भी पढ़ें…दिग्विजय सिंह यहां राम मंदिर ट्रस्ट को देंगे जमीन!

उनके बयान पर हिंदू संगठनों ने विरोध जताया है। बीजेपी नेता राजेश कुमार ने कांग्रेस के सीनियर लीडर के खिलाफ केस दर्ज कराया है। वहीं शहर के अंदर रात के अंधेरे में दिग्विजय सिंह के विरोध में पोस्टर लगाए गए हैं।

बता दें कि राजधानी में मंगलवार को एक संत समागम का आयोजन किया गया था। इस मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने विवादित बयान देते हुए कहा था, ‘भगवा वस्त्र पहनकर लोग चूरन बेच रहे हैं।

भगवा वस्त्र पहनकर बलात्कार हो रहे हैं। मंदिरों में बलात्कार हो रहे हैं। क्या यही हमारा धर्म है? हमारे सनातन धर्म को जिन लोगों ने बदनाम किया है, उन्हें ईश्वर भी माफ नहीं करेगा। ऐसे कृत्यों को माफ नहीं किया जा सकता।’

ये भी पढ़ें…कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह पर राउज एवेन्यू कोर्ट में मानहानि की शिकायत दर्ज