×

6 साल में 600 करोड़: ऐसे मामलों मे लिप्त हैं ये कांग्रेस नेता

कांग्रेस के बड़े नेता डीके शिवकुमार के लिए मुश्किलें बढ़ गई हैं। प्रवर्तन निदेशालय ने नेता डीके शिवकुमार को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार कर लिया है।

Shreya
Updated on: 4 Sep 2019 5:22 AM GMT
6 साल में 600 करोड़: ऐसे मामलों मे लिप्त हैं ये कांग्रेस नेता
X
6 साल में 600 करोड़: ऐसे मामलों मे लिप्त हैं ये कांग्रेस नेता
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

कर्नाटक: कांग्रेस के बड़े नेता डीके शिवकुमार के लिए मुश्किलें बढ़ गई हैं। प्रवर्तन निदेशालय ने नेता डीके शिवकुमार को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार कर लिया है। वहीं गिरफ्तारी के बाद तबीयत खराब होने की वजह से डीके शिवकुमार को राम मनोहर लोहिया अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। साथ ही डीके शिवकुमार ने अपने गिरफ्तारी को राजनीति के बदले की कार्रवाई कहा है।

2017 से चल रहा है मामला-

बता दें कि डीके शिवकुमार पर 2017 से ही मनी लॉन्ड्रिंग का मामला चल रहा है। डीके शिवकुमार ने गिरफ्तारी से बचने के लिए कर्नाटक के हाईकोर्ट में जमानत के लिए अर्जी दी थी पर कोर्ट ने अर्जी को खारिज कर दिया था। डीके शिवकुमार को ईडी द्वारा बार-बार नोटिस भेजने पर भी वो ईडी के सामने पेश नहीं होते थे। पहली बार शिवकुमार शुक्रवार को ईडी के सामने पेश हुए थे। ईडी के अनुसार शिवकुमार पूछताछ में सहयोग नहीं कर रहे हैं। वहीं ईडी ने शिवकुमार से चार बार पुछताछ करने के बाद उनको गिरफ्तार किया है।

यह भी पढ़ें: INX मीडिया केसः सुनवाई के लिए पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को कोर्ट लाया गया

2017 में प्रवर्तन निदेशालय ने की थी छापेमारी, मिले थे 11 करोड़ कैश-

दरअसल, नोटबंदी के बाद से ही शिवकुमार इनकम टैक्स के निशाने पर थे। 2 अगस्त 2017 को प्रवर्तन निदेशालय ने शिवकुमार के घर और ऑफिस पर छापेमारी की थी। जिसमें शिवकुमार के दिल्ली के सफदरगंज बंगले से 11 करोड़ कैश मिले थे। जिसके बाद इनकम टैक्स डिपार्टमेन्ट ने शिवकुमार के खिलाफ केस दर्ज किया था। साथ ही शिवकुमार के चार साथियों के खिलाफ भी मामला दर्ज है। शिवकुमार के खिलाफ इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के चार्जशीट के बाद मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज हुआ है।

शिवकुमार कर्नाटक के सबसे अमीर नेतां में शुमार हैं। 2013 में उन्होंने अपनी सम्पत्ति 251 करोड़ बताई थी और 2019 में लोकसभा के हलफनामे में उन्होंने अपनी संपत्ति कुल 840 करोड़ बताई है। महज 6 साल में शिवकुमार ने करीब 600 करोड़ रुपये कमा लिए। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने शिवकुमार के पास से बेहिसाब पैसे का भी पता लगाया है। 2017 में शिवकुमार अपनी बेटी के साथ सिंगापुर गए थे , जहां पर हुए मनी ट्रांजेक्शन के बारे में शिवकुमार से ईडी की पुछताछ जारी है।

यह भी पढ़ें: पी चिदंबरम को गिरफ्तार करने का नहीं है कोई सबूत- कांग्रेस

उन्होंने अपने हलफनामे में उनके पास 2019 में 70 करोड़ की चल और 548 करोड़ की अचल संपत्ति थी जबकि 2013 में 46 करोड़ की चल और 169 की अचल संपत्ति थी।

वहीं इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने शिवकुमार के पास 429.32 करोड़ की अज्ञात संपत्ति का भी पता लगाया था। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने मार्च 2019 में शिवकुमार की 75 करोड़ की संपत्ति जब्त की थी। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने जानकारी दी थी कि उन्होंने किसी और के नाम से जमीन खरीद के अपनी संपत्ति बनाई थी, जिसका हिसाब उनके पास नहीं है।

Shreya

Shreya

Next Story