कोरोना संकट के बीच अमेरिका ने दी भारत को धमकी, कही ये बात

कोरोना वायरस से अमेरीका बुरी तरह प्रभावित है। इस जानलेवा वायरस से निपटने के लिए अमेरिका को भारत की मदद की जरूरत है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने इस बाबत पहले से भारत से गुजारिश की लेकिन अब वह मदद के लिए भारत को धमकी भी दे रहा है।

नई दिल्ली: कोरोना वायरस से अमेरीका बुरी तरह प्रभावित है। इस जानलेवा वायरस से निपटने के लिए अमेरिका को भारत की मदद की जरूरत है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने इस बाबत पहले से भारत से गुजारिश की लेकिन अब वह मदद के लिए भारत को धमकी भी दे रहा है।

कोरोना से लड़ने को लिए अमेरिका को चाहिए भारत की मदद

दरअसल, अमेरिका को कोरोना संक्रमितों के इलाज के लिये महत्वपूर्ण दवा चाहिए। भारत ने इस दवा के निर्यात पर रोक लगा दी है। ऐसे में राष्ट्रपति ने ट्रंप ने चेतावनी दी है कि अगर भारत दवा का निर्यात नहीं करता है तो उसे अमेरिका का बदला झेलना होगा।

ये भी पढ़ेंःदेश में ऐसे हटेगा लॉकडाउन, केंद्र सरकार ने तैयार कर ली रणनीति

संक्रमितों के इलाज के लिए चाहिए महत्वपू्र्ण दवाएं

बता दें कि पिछले दिनों ट्रम्प ने भारत से हाइड्रोक्सिक्लोरोक्वीन (Hydroxychloroquine)दवा मांगी थी, हालांकि भारत की ओर से इस दवा के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। भारत को अपने देश में मरीजों के इलाज के लिए इस दवा की जॉर्ट है। यह दवा मलेरिया के इलाज में इस्तेमाल की जाती है। जो कोरोना वायरस से संक्रमित रोगियों के इम्यून सिस्टम का मजबूत करती है।

ये भी पढ़ेंःकोरोना पॉजिटिव ब्रिटिश पीएम जॉनसन की हालत बिगड़ी, ICU में किया गया भर्ती

 

भारत ने घरेलू जरूरत के मद्देनजर निर्यात पर लगा रखी है रोक

गौरतलब है कि भारत सरकार ने घरेलू बाजार में उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिये हाइड्रोक्सिक्लोरोक्वीन के निर्यात पर 25 मार्च को रोक लगा दी थी। इसके बाद दोनों देशों के प्रमुखों के बीच वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बात हुई। इस दौरान ट्रंप ने पीएम मोदी से हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन टेबलेट्स की सप्लाई की गुजारिश की थी। हालाँकि भारत ने इस बारे में कोई सटीक जवाब अब तक नहीं दिया है ।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।