×

पूरे देश में दीपावली की उमंग, रोशनी के पर्व के दिन इन स्थानों पर दीप जलाना न भूलें

दीपावली के दिन लोग विभिन्न स्थानों पर दीपक जलाकर मां लक्ष्मी के आगमन की प्रतीक्षा करते हैं। जानकारों का कहना है कि इस दिन घर के भीतर और घर से बाहर कई ऐसी जगहें हैं जहां दीप जलाना शुभ माना जाता है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 14 Nov 2020 4:07 AM GMT

पूरे देश में दीपावली की उमंग, रोशनी के पर्व के दिन इन स्थानों पर दीप जलाना न भूलें
X
पूरे देश में दीपावली की उमंग, रोशनी के पर्व के दिन इन स्थानों पर दीप जलाना न भूलें (PC: Social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: पूरा देश इस समय रोशनी के पर्व दीपावली की उमंग में डूबा हुआ है। घर-घर में दीपों के पर्व को मनाने की तैयारियां जोरों पर हैं और हर किसी को मां लक्ष्मी के आगमन का इंतजार है। लक्ष्मी जी के स्वागत के लिए घरों में दीप जलाने की परंपरा है।

दीपावली के दिन लोग विभिन्न स्थानों पर दीपक जलाकर मां लक्ष्मी के आगमन की प्रतीक्षा करते हैं। जानकारों का कहना है कि इस दिन घर के भीतर और घर से बाहर कई ऐसी जगहें हैं जहां दीप जलाना शुभ माना जाता है।

ये भी पढ़ें:देशभर में दिवाली की धूम, PM मोदी और राष्ट्रपति समेत इन दिग्गजों ने दी शुभकामनाएं

दीप जलाने के स्थानों के बारे में जानकारी जरूर रखनी चाहिए। शास्त्रों के साथ ही वास्तु में भी इन स्थानों पर दीप जलाने का महत्व बताया गया है। आइए जानते हैं उन स्थानों के बारे में जहां रोशनी के पर्व दीपावली के दिन दीपक जरूर जलाना चाहिए।

घर का मुख्य दरवाजा

जानकारों के मुताबिक दीयों की पूजा करने के बाद घर के मुख्य दरवाजे के दोनों और सबसे पहले दीपक जलाना चाहिए। ऐसे स्थान पर दीप जलाने का महत्व इसलिए काफी ज्यादा है क्योंकि मां लक्ष्मी घर में पहला कदम यहीं से रखती हैं।

घर के मुख्य दरवाजे पर दीपक जलाने से घर में सकारात्मकता आती है। इसलिए दीपावली पर लक्ष्मी पूजा करने से पहले घर के मुख्य दरवाजे के दोनों और दीप जलाने की बात हमेशा याद रखनी चाहिए।

आंगन

घर का आंगन भी काफी महत्वपूर्ण स्थान है और इस स्थान पर दूसरा दीया जलाना चाहिए। मौजूदा दौर में कई घरों में आंगन नहीं होता तो ऐसे घरों के बीच वाले कमरे में भी घी का दीपक जलाया जा सकता है।

diwali diwali (PC: Social media)

इस स्थान पर दीपक जलाने का महत्व इसलिए भी काफी ज्यादा हो जाता है क्योंकि यह घर का ब्रह्म स्थान माना जाता है। इस स्थान पर दीपक जलाने से परिवार के सदस्यों में हमेशा संतुष्टि का भाव बना रहता है।

घर का मंदिर

मां लक्ष्मी का पूजन करने से पहले घर के मंदिर या पूजा के स्थान पर भी दीपक जलाने चाहिए। यदि आपके घर के आसपास या अगल-बगल कोई मंदिर हो तो वहां भी दीपक जलाना नहीं भूलना चाहिए।

ऐसा करना इसलिए जरूरी है क्योंकि इससे घर में समृद्धि आती है और घर के भीतर और परिवार के सदस्यों में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है।

घर के चारों कोने

लक्ष्मी पूजन से पहले एक बात और ध्यान रखना जरूरी है। घर के चारों कोनों में चार मुखी दीपक जरूर जलाना चाहिए। चार मुखी दीपक से मतलब ऐसे दीए से है जिसमें चार बातियां जलाई जा सकें।

चार मुखी दीपों को घर के चारों कोनों में जलाना चाहिए और भगवान गणेश से सुख समृद्धि के लिए कामना करना चाहिए। माना जाता है कि ऐसा करने से घर को एक सुरक्षा कवच मिलता है।

तुलसी का पौधा

इस दिन हर किसी को तुलसी के पौधे का भी ध्यान रखना चाहिए। मां लक्ष्मी की पूजा करने के बाद घर में तुलसी के पौधे पर तेल का दीपक जरूर जलाना चाहिए। भगवान विष्णु को तुलसी काफी प्रिय है। ऐसे में तुलसी पर दीपक जलाने से घर में शुद्धता और शांति बनी रहती है।

पीपल का पेड़

तमाम लोग ऐसे हैं जिनके घरों के कोई न कोई पीपल का पेड़ जरूर होता है। दीपावली के दिन पीपल के पेड़ पर दीप जलाने की बात नहीं भूलनी चाहिए क्योंकि पीपल के पेड़ में भगवान विष्णु का वास माना जाता है।

घर की रसोई

इसके साथ ही घर की रसोई को भी कभी नहीं भूलना चाहिए और मां लक्ष्मी की पूजा करने के बाद घर की रसोई में भी दो दीपक जरूर जलाने चाहिए। किसी भी घर में रसोई का अलग महत्व होता है और रसोई में दीप जलाने से मां अन्नपूर्णा प्रसन्न होती हैं और अन्न भंडार में हमेशा वृद्धि होती है।

घर की तिजोरी

मां लक्ष्मी की पूजा करने के बाद भगवान कुबेर को याद करना भी जरूरी है। भगवान कुबेर की प्रार्थना करने के बाद घर की तिजोरी की पूजा करनी चाहिए और तिल के तेल का दीपक घर की तिजोरी के पास जलाना नहीं भूलना चाहिए। भगवान कुबेर के प्रसन्न होने पर हमेशा घर में समृद्धि बनी रहती है।

diwali diwali (PC: Social media)

पास का चौराहा

घर के पास अगर कोई चौराहा है तो वहां भी दीपक जलाने की परंपरा रही है। चौराहे पर दीपक जलाने के बाद एक बात का ध्यान जरूर रखना चाहिए। चौराहे पर दीपक जलाने के बाद घर लौटते समय कभी मुड़कर नहीं देखना चाहिए। माना जाता है कि चौराहे पर दीपक जलाने से समस्याएं कम हो जाती हैं और नकारात्मकता हमेशा घर से दूर बनी रहती है।

ये भी पढ़ें:अमेरिकी चुनाव: बाइडेन एरिज़ोना और जॉर्जिया में जीते, डेमोक्रेट के इलेक्टोरल वोट हुए 306

अंधेरे वाला स्थान

यदि घर के आस-पास कोई घुप्प अंधेरे वाला स्थान हो तो वहां दीपक जलाकर दीपावली के दिन रोशनी जरूर करनी चाहिए। ऐसा करना इसलिए जरूरी है ताकि घर से नकारात्मकता हमेशा दूर बनी रहे।

रिपोर्ट- अंशुमान तिवारी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story