Top

वैक्सीन का अभी और इंतजार: नए ट्रायल पर मनाही, सामने आई ये वजह

देशभर में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच लोगों को इतंजार है तो सिर्फ कोरोना वैक्सीन का। महामारी के जल्द-जल्द से खत्म होने की उम्मीद में वैक्सीन को लेकर उत्सुकता मची हुई है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 12 Sep 2020 5:35 AM GMT

वैक्सीन का अभी और इंतजार: नए ट्रायल पर मनाही, सामने आई ये वजह
X
देशभर में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच लोगों को इतंजार है तो सिर्फ कोरोना वैक्सीन का। महामारी को खत्म करने की उम्मीद में वैक्सीन के लिए उत्सुकता है।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच लोगों को इतंजार है तो सिर्फ कोरोना वैक्सीन का। महामारी के जल्द-जल्द से खत्म होने की उम्मीद में वैक्सीन को लेकर उत्सुकता मची हुई है। पर ऐसे में ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने भारतीय सीरम इंस्टीट्यूट से कहा है कि वह दवा कंपनी एस्ट्राजेनेका द्वारा दूसरे देशों में ऑक्सफॉर्ड कोरोना वैक्सीन का परीक्षण रोके जाने को ध्यान में रखते हुए दूसरे और तीसरे चरण के क्लीनिकल परीक्षण के लिए नए उम्मीदवारों की भर्ती को अगले आदेश तक रोक दे।

ये भी पढ़ें... भूकंप से हिली मीनारें: ताबड़तोड़ झटकों से कांप उठा देश, प्रलय के संकेत

वैक्सीन लगवा चुके लोगों की सुरक्षा निगरानी बढ़ाएं

कोरोना वैक्सीन पर महानियंत्रक डॉक्टर वीजी सोमानी ने शुक्रवार को एक आदेश में भारतीय सीरम संस्थान (SII) से यह भी कहा कि परीक्षण के दौरान अभी तक वैक्सीन लगवा चुके लोगों की सुरक्षा निगरानी बढ़ाएं। साथ ही योजना और रिपोर्ट पेश करें।

ये भी पढ़ें...वेतन कटौती का बिल पास:मंत्री-विधायकों पर बड़ा फैसला, अब कटेगी 30 फीसदी सैलेरी

Corona vaccine फोटो-सोशल मीडिया

ऐसे में वैक्सीन के बारे में सोमानी ने कंपनी से ये भी कहा है कि वह भविष्य में परीक्षण के लिए नई भर्तियां करने से पहले उनके कार्यालय (डीसीजीए) से पूर्वानुमति के लिए ब्रिटेन और भारत में डेटा एंड सेफ्टी मॉनिटरिंग बोर्ड (डीएसएमबी) से मिली मंजूरी जमा कराएं।

बता दें, डीसीजीए ने एस्ट्राजेनेका द्वारा दूसरे देशों में टीके का परीक्षण रोके जाने के बारे में जानकारी नहीं देने को लेकर 9 सितंबर को भारतीय सीरम संस्थान (SII) को कारण बताओ नोटिस जारी किया था।

Covid फोटो-सोशल मीडिया

ये भी पढ़ें...बहुत भीषण हादसा: गहरी खाई में गिरी पिकअप, मौके पर ही कई लोगों की मौत

प्रतिकूल प्रभाव के संबंध में कोई रिपोर्ट नहीं

इसके साथ ही सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने केंद्रीय लाइसेंसी प्राधिकार को अभी तक एस्ट्राजेनेका द्वारा अन्य देशों में टीके का परीक्षण निलंबित किए जाने की सूचना नहीं दी है और मरीजों पर इसके प्रतिकूल प्रभाव के संबंध में कोई रिपोर्ट भी नहीं सौंपी है।

वहीं नोटिस में नई औषधि और क्लिनिकल ट्रायल नियम, 2019 के प्रावधान 30 के जरिए सीरम इंस्टीट्यूट से पूछा गया था कि 2 अगस्त को दी गई परीक्षण की मंजूरी को मरीजों की सुरक्षा तय होने तक स्थगित क्यों ना कर दिया जाए। ऐसे में कोरोना की वैक्सीन के मिलने का थोड़ा और इंतजार करना पड़ सकता है।

ये भी पढ़ें...UP की ये अहम परियोजनाएं: योगी ने कसे अधिकारियों के पेंच, जल्द होना है काम पूरा

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story