×

माल्या विदेश में भी कंगाल: ईडी ने दिया ऐसा तगड़ा झटका, उड़ गए होश

विजय माल्या पर कार्रवाई करने के लिए भारत ने सात समुद्र तक पार कर डाले। प्रवर्तन निदेशालय ने शुक्रवार को माल्या की फ्रांस में बनी प्रॉपर्टी जब्त कर ली।

Shivani

ShivaniBy Shivani

Published on 4 Dec 2020 2:31 PM GMT

माल्या विदेश में भी कंगाल: ईडी ने दिया ऐसा तगड़ा झटका, उड़ गए होश
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: भारत में भगौड़ा घोषित किंगफिशर एयरलाइंस लिमिटेड के मालिक और शराब कारोबारी विजय माल्या भले ही देश में नहीं हैं लेकिन उनकी मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रहीं। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने विजय माल्या को तगड़ा झटका दिया है। शुक्रवार को ईडी ने बड़ी कार्रवाई करते हुए माल्या की फ्रांस में 1.6 मिलियन यूरो की प्रॉपर्टी को को जब्त कर लिया।

माल्या की फ़्रांस की प्रॉपर्टी ईड़ी ने की जब्त

दरअसल, विजय माल्या पर कार्रवाई करने के लिए भारत ने सात समुद्र तक पार कर डाले। प्रवर्तन निदेशालय ने शुक्रवार को माल्या की फ्रांस में बनी प्रॉपर्टी जब्त कर ली। इस प्रॉपर्टी की कीमत 1.6 मिलियन यूरो की बताई जा रही है। इस बात की पुष्टि माल्या पर कार्रवाई करने के बाद खुद ईडी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से की।



ईडी की ओर से किये गए ट्वीट में बताया गया, 'ईडी के आग्रह पर विजय माल्‍या की 32 अवेन्‍यू फोच (FOCH), फ्रांस की संपत्ति को फ्रेंच अथॉरिटी ने जब्‍त किया है।' यानी भारतीय रुपये के हिसाब से ये प्रॉपर्टी करीब 14.34 करोड़ रुपये आंकी गयी है। वहीं ईडी की जांच में पता चला कि किंगफिशर एयरलाइंस लिमिटेड के बैंक अकाउंट से विदेश में बड़ी रकम को निकाला गया है।

ये भी पढ़ेंः तानाशाह ने चीन सीमा पर तैनात किया ये खतरनाक गन, इनको दिया मारने का आदेश

17 बैंकों का नौ हजार करोड़ लेकर भागा था माल्या

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने विजय माल्या को अवमानना का दोषी पाया था। यह पूरा मामला वित्तीय लेन-देन से संबंधित है। गौरतलब है कि माल्या पर 17 बैंकों का नौ हजार करोड़ रुपये बकाया है। वह साल 2016 में भारत छोड़कर ब्रिटेन भागा था।

विजय माल्या अवमानना का दोषी

कोर्ट ने विजय माल्या को बैंकों का लोन चुकाने का आदेश दिया था, लेकिन माल्या ने बैंक लोन चुकाने की जगह पैसा अपने बेटे के अकाउंट में डाल दिया था। माल्या पर 40 मिलियन डॉलर ट्रांसफर करने के आरोप हैं। वह वर्तमान में ब्रिटेन में रह रहे हैं, जहां से सरकार उन्हें प्रत्यर्पित करने की कोशिश कर रही है। भारत ने ब्रिटेन की कोर्ट से माल्या के प्रत्यर्पण की अपील की है, जिसके बाद ब्रिटेन की अदालत ने 14 मई को माल्या के भारत प्रत्यर्पण की अपील पर मुहर लगा दी थी।

ब्रिटेन की अदालत माल्या के भारत प्रत्यर्पण की अपील पर लगाई थी मुहर

हालांकि ब्रिटेन में कुछ गोपनीय कार्रवाई चल रही है, जिसकी जानकारी भारत के साथ शेयर नहीं की गई है। जिसके चलते उसके प्रत्यर्पण में वक्त लग रहा है। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कोर्ट को बताया गया था कि ब्रिटेन की सर्वोच्च अदालत द्वारा माल्या के प्रत्यर्पण का आदेश दे दिया गया था, लेकिन इसका कोई असर नहीं हुआ है। इस मामले में अभी कार्रवाई लंबित है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani

Shivani

Next Story