×

शाहीन बाग फायरिंग खुलासा: पुलिस ने कपिल से जुड़े सबूत किये पब्लिक, जानिए क्या

शाहीन बाग में गोली चलाने वाले शख्स  कपिल बंसौला पर पुलिस के खुलासे के बाद आम आदमी पार्टी (आप) आगबबूला हो गई है और इस मामले को लेकर चुनाव आयोग जाने वाली है। इसे गंदी साजिश बताया है

suman

sumanBy suman

Published on 5 Feb 2020 5:09 AM GMT

शाहीन बाग फायरिंग खुलासा: पुलिस ने कपिल से जुड़े सबूत किये पब्लिक, जानिए क्या
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : शाहीन बाग में गोली चलाने वाले शख्स कपिल बंसौला पर पुलिस के खुलासे के बाद आम आदमी पार्टी (आप) आगबबूला हो गई है और इस मामले को लेकर चुनाव आयोग जाने वाली है। इसे गंदी साजिश बताया है और कहा कि बीजेपी मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिए सारी साजिश रच रही है। उधर, बीजेपी ने कहा कि 'आप 'के खेल का भंडाफोड़ हो चुका है और 8 तारीख को दिल्ली की जनता इसका जवाब देगी।

संजय सिंह ने कहा कि हम इस मामले की शिकायत चुनाव आयोग और दिल्ली पुलिस के डीएसपी क्राइम ब्रांच से करेंगे। उन्होंने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि आखिर किसकी इजाजत से उन्होंने हमारी पार्टी का नाम लिया है और किस आधार पर। यह बीजेपी की गंदी चाल है।

दिल्ली पुलिस द्वारा मामले के खुलासे के बाद आप के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि अपराध में जो शामिल है, उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई कीजिए। बीजेपी मुद्दों से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए सारी साजिश रच रही है। आप ने कहा कि पहले हमें देखने दें कि फायरिंग करने वाला और उनके पिता हमारी पार्टी में हैं या पहले कभी थे या अब किसी और दल में तो नहीं हैं।

यह पढ़ें...दिल्ली विधानसभा चुनाव: BJP के दिग्गज आज भी उतरेंगे मैदान में, यहां करेंगे रैलियां

कपिल बैंसला आप कार्यकर्ता

बता दें कि दिल्ली पुलिस ने शाहीन बाग में हवाई फायरिंग करने वाले कपिल बैंसला को आम आदमी पार्टी का कार्यकर्ता बताया है। क्राइम ब्रांच का दावा है कि कपिल और उसके पिता गजे सिंह करीब एक साल पहले आप में शामिल हो चुके हैं। पुलिस ने कपिल की कुछ तस्वीरें भी जारी की हैं जिसमें वह कथित तौर पर आप के साथ दिख रहा है। इस दावे पर बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि आप बेनकाब हो चुकी है। देश चुनाव से बड़ा है और इसकी सुरक्षा से खिलवाड़ करने वालों को देश कभी माफ नहीं करेगा।

जांच एजेंसी का कहना है कि बीएसपी से विधानसभा और नगर निगम का चुनाव लड़ चुके उसके पिता गजे सिंह और खुद कपिल करीब एक साल पहले ‘आप’ में शामिल हुए थे। मंगलवार को कपिल को कोर्ट में पेश कर उसकी दो दिन की पुलिस रिमांड बढ़वाई गई है, ताकि सारे मामले का खुलासा किया जा सके।

यह पढ़ें...अंबानी परिवार में फूट! बेटों ने ही छोड़ा साथ, अब कैसे चलेगी कंपनी

फोन से मिले सबूत

डीसीपी (क्राइम) राजेश देव ने बताया कि इसका खुलासा कपिल के मोबाइल फोन से डिलीट किए गए फोटोग्राफ रिकवर करने से हुआ है। वह और उसके पिता एक साल पहले जब ‘आप’ में शामिल हुए थे, वो फोटो भी मिल गए हैं। स्पेशल इनवेस्टिगेशन टीम की जांच में सामने आया कि कपिल अपने दोस्त सार्थक के साथ बाइक से शनिवार को शाहीन बाग पहुंचा था। दोस्त को बाइक और मोबाइल फोन सौंप दिया और फिर दो राउंड गोली चला दी। पुलिस ने इसे मौके पर ही दबोचकर तमंचा बरामद कर लिया था।

जांच एजेंसी कपिल की निशानदेही पर सार्थक तक पहुंची, जिससे मोबाइल और बाइक बरामद कर लिए। लेकिन कपिल वारदात को अंजाम देने से पहले मोबाइल और वॉट्सऐप से फोटोग्राफ डिलीट कर दिए थे। टेक्निकल टीम की मदद से सभी फोटोग्राफ रिकवर कर लिए गए। कपिल परिवार समेत दल्लूपुरा गांव की हरिजन बस्ती में रहता है। पिता गजे सिंह के अलावा परिवार में मां उर्मिला, बड़ा भाई सचिन, पत्नी अनिता और एक बेटी है। कपिल गाजीपुर डेरी स्थित पिता के दूध के काम में हाथ बंटाता है। वारदात वाले दिन अपने दोस्त सार्थक के साथ शाहीन बाग में धरने से करीब 100-150 मीटर दूर आया। दो हवाई फायर किए। कपिल के पिता गजे सिंह बीएसपी से चुनाव लड़ चुके हैं।

suman

suman

Next Story