चल रही ताबड़तोड़ गोलियां: आतंकियों को सेना ने घेरा, 26 जनवरी से पहले बड़ी कार्रवाई

रिपब्लिक डे के मौके पर भारत जश्न मनाने की तैयारी में हैं तो वहीं देश की सेना और सुरक्षा एजेंसियां आतंकी साजिशों को नाकाम करने की कवायद में जुटी हुई है। इसी कड़ी में जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है।

Published by Shivani Awasthi Published: January 25, 2020 | 10:15 am
Modified: January 25, 2020 | 10:18 am

पुलवामा: रिपब्लिक डे के मौके पर भारत जश्न मनाने की तैयारी में हैं तो वहीं देश की सेना और सुरक्षा एजेंसियां आतंकी साजिशों को नाकाम करने की कवायद में जुटी हुई है। इसी कड़ी में जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है। सुरक्षा एजेंसियों ने जैश के तीन आतंकियों को घेर रखा है। दोनों ओर से फायरिंग जारी है, वहीं पूरे इलाके की नाकेबंदी कर दी गयी है।

आतंकियों के खिलाफ सेना का ऑपरेशन:

जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबल आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन चला कर आतंक के खात्मे का प्रयास में लगा हुआ है। गणतंत्र दिवस को लेकर आतंकी बड़े हमले की साजिश में हैं। ख़ुफ़िया एजेंसियों को इस बारे में जानकारी होते ही अलर्ट जारी हो गया है। वहीं सेना ऑपरेशन चला कर आतंकियों की तलाश में जुटी हुई है। गणतंत्र दिवस की वजह से घाटी में पहले से ही सुरक्षा चाक चौबंद है।

ये भी पढ़ें: ब्लास्ट से दहली मुंबई: मचा हड़कंप, रेस्क्यू में लगा पुलिस और दमकल विभाग

सेना ने जैश के तीन आतंकियों को घेरा, मुठभेड़ जारी:

इसी कड़ी में शुक्रवार को आतंकियों की मौजूदगी की खबर मिलते ही पुलवामा जिले के त्राल में सेना पहुंच गई और आतंकियों के खात्मे के लिए ऑपरेशन शुरू कर दिया।

सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ चल रही है। सेना ने यहां पर जैश के तीन आतंकियों को घेर रखा है। रिपोर्ट के मुताबिक दोनों ओर से फायरिंग हो रही है। सेना ने आस-पास के इलाके में नाकेबंदी कर दी है और पूरे इलाके को घेर लिया है।

ये भी पढ़ें:26 जनवरी को लेकर हाई अलर्ट: आतंकी साजिश का ऐसा है प्लान, कमांडो तैनात

सेना ने आसपास के मकानों को करवाया खाली:

बताया जा रहा है कि आतंकी एक घर में छिपे हुए हैं। सेना ने आस-पास के लोगों को मकान खाली करने को कहा है। सेना ने जिन आतंकियों को घेर रखा है उनकी पहचान भी सामने आ रही है।

jammu kashmir

सूत्रों के मुताबिक़, सेना ने जैश के कमांडर कारी यासिर को घेर लिया है। बता दें कि कारी यासिर पाकिस्तानी मूल का है। कारी यासिर ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद घाटी में आम लोगों की हत्याओं को अंजाम दिया था। इस आतंकी पर त्राल गुज्जरों की हत्या का आरोप है। वहीं दूसरे आतंकी का नाम बुरहान शेख बताया जा रहा है।

ये भी पढ़ें: शिवसेना का बड़ा बयान: पाकिस्तानी-बांग्लादेशी मुसलमानों को लेकर कही ये बात