भूख से मर रहा था शख्स: मदद के लिए पहुंचे कर्मचारी, नजारा देख रह गए दंग

लाॅकडाउन के दौरान कथित गरीब भुखमरी के नाम पर सरकार और प्रशासन की नेक पहल की धज्जियाँ उड़ा रहे हैं। भूख से मरने का हवाला देते हुए मदद मांग रहे हैं।

अजमेर: लॉकडाउन लागू होने के बाद केंद्र और राज्य सरकारें लगातार प्रयासरत हैं कि कोई भी व्यक्ति भूखा न सोये। आय का जरिया खत्म होने के कारण गरीबों को लेकर तो सरकारें युद्ध स्तर पर काम कर रहीं हैं लेकिन कुछ कथित गरीब भुखमरी के नाम पर सरकार और प्रशासन की नेक पहल की धज्जियाँ उड़ा रहे हैं। ऐसा ही एक मामला अजमेर से सामने आया, जब एक व्यक्ति ने प्रशासन की डोर टू डोर सुविधा का नाजायज फायदा उठाते हुए भूख से मरने का हवाला देते हुए हेल्पलाइन पर कॉल कर दी। लेकिन जब सरकारी कर्मचारी वहां पहुंचे तो नजारा देख दंग रह गए।

भूखा मरने की बात कह कण्ट्रोल रूम से मांगी मदद

राजस्थान के अजमेर में एक व्यक्ति ने लॉकडाउन के दौरान भूखे मरने की नौबत बताते हुए सरकारी मदद मांगी। खानपुरा निवासी चांद मोहम्मद ने जिलास्तरीय कंट्रोल रूम पर फोन करके भोजन एवं सामग्री के लिए सहायता मांगी। इस पर प्रशासन ने सहायता पहुंचाने के लिए क्षेत्र के अधिकारियों को निर्देश दिया।

ये भी पढ़ेंः मुंबई में खड़ा हुआ बड़ा संकट, 100 मेडिकल स्टाफ संक्रमित, बड़े अस्पताल सील

राहत सामग्री लेकर पहुंचे अधिकारी घर के हालात देख रह गए दंग

इसके बाद चाँद मोहम्मद ने दोबारा फोन किया और कहा, ‘मैं भूख से मर रहा हूं, मेरे मरने के बाद सहायता पहुंचेगी क्या?’ प्रशासन ने उसकी बात को गंभीरता से लिया। खानपुरा के रसद विभाग के अधिकारी तुरंत राशन सामग्री और तैयार भोजन के पैकेट लेकर गए। जब कमर्चारी उसके घर के अंदर गए तो नजारा देख हैरान रह गए।

ये भी पढ़ेंः भूख के नाम पर छलावा, झुग्गी झोपड़ी में मिला नॉनवेज

पर्याप्त राशन-नॉनवेज था उपलब्ध, प्रशासनिक मदद का उठाया नजायज फायदा

उसे भोजन की कोई कमी नहीं थी। घर पर पर्याप्त राशन, नॉनवेज उपलब्ध था। वहीं घर में मोटरसाइकल, गैस कनेक्शन, फ्रिज, कूलर जैसी उपभोक्ता वस्तुओं से भी सम्पन्न था।

बता दे कि हर जरूरतमंद तक सामग्री पहुंचना सुनिश्चित करने के साथ ही प्रशासन व्यक्ति की आवश्यकताओं एवं सामग्री की उपलब्धता के संबंध में जांच करता है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।