Top

सेना से घबराए दुश्मन: चला दी ताबड़तोड़ गोलियां, कईयों को मार गिराया

झारखंड के पश्चिम सिंहभूमि में बीते बृहस्पतिवार को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), राज्य पुलिस और नक्सलियों के बीच जबरदस्त मुठभेड़ होने की खबरे सामने आ रही हैं।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 28 May 2020 9:34 AM GMT

सेना से घबराए दुश्मन: चला दी ताबड़तोड़ गोलियां, कईयों को मार गिराया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। झारखंड से नक्सलियों को लेकर बड़ी खबर आ रही है। झारखंड के पश्चिम सिंहभूमि में बीते बृहस्पतिवार को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ), राज्य पुलिस और नक्सलियों के बीच जबरदस्त मुठभेड़ होने की खबरे सामने आ रही हैं। इसके साथ ही इस मुठभेड़ में तीन नक्सलियों को मार गिराया गया। वहीं आईजी ऑपरेशन साकेत कुमार सिंह ने कहा, 'मुठभेड़ में 3 नक्सलियों को मार गिराया गया है और एक घायल हो गया है। स्थानीय पुलिस ने क्षेत्र में बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। एके -47 सहित भारी मात्रा में हथियार मिले हैं।

यहां 40 किलो आईईडी छिपा रखी थी

आपको बता दें कि झारखंड से नक्सलियों लेकर सेना जहां लगातार अलर्ट पर है। वहीं आज जम्मू कश्मीर में सुरक्षा बलों की मुस्तैदी से एक बड़े आतंकी हमले को टाल दिया गया है। आतंकियों ने पुलवाला इलाके में एक सेंट्रो कार में 40 किलो आईईडी छिपा रखी थी।

ये भी पढ़ें…रायबरेली में लाखों रुपए की मछलियों के साथ तीन तस्कर गिरफ्तार

यही नहीं जिसे सुरक्षाबल के जवानों ने समय रहते खोज निकाला और विस्फोटक सामग्री को एक सुरक्षित स्थान पर ले जाकर निष्क्रिय कर दिया। अब इस मामले में जम्मू-कश्मीर पुलिस के आईजी विजय कुमार मीडिया से रूबरू हुए, उन्होंने पत्रकारों को बताया कि ये एक सोची समझी साजिश का हिस्सा था। इसका मकसद सुरक्षाबलों को निशाना बनाना था। लेकिन समय रहते इस हमले को नाकाम कर दिया गया।

आतंकी लगातार अपने काम को अंजाम देने में जुटे हुए हैं। लेकिन भारत की सेना इनके हर मंसूबों को नाकाम करती जा रही है। आज भी ये आतंकी पुलवामा जैसी घटना को दोहराने में लगे हुए थे, लेकिन इनका यह प्लान सेना ने ध्वस्त कर दिया है।

ये भी पढ़ें…एक लाख मौत: इस दर्द से कैसे उभरेगा ये देश, क्यों फेल हुए ट्रंप

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Desk Editor

Next Story