दिल्ली अग्निकांड में 43 की मौत, पीएम मोदी दो तो केजरीवाल देंगे 10 लाख

दिल्ली के रानी झांसी रोड में रविवार सुबह भीषण आग लग गई। जिसमें अब तक 43 लोगों की मौत हुई है। 56 से ज्यादा लोगों को बाहर निकाला गया है। वहीं इस घटना के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मुआवजे का ऐलान कर दिया है।

Published by Aditya Mishra Published: December 8, 2019 | 9:24 am
Modified: December 8, 2019 | 2:15 pm

नई दिल्ली: दिल्ली के रानी झांसी रोड में रविवार सुबह भीषण आग लग गई। जिसमें अब तक 43 लोगों की मौत हुई है। 56 से ज्यादा लोगों को बाहर निकाला गया है। वहीं इस घटना के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मुआवजे का ऐलान कर दिया है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल घटनास्थल पर पहुंचे और इसके बाद घायलों को देखने अस्पताल भी गए। घटना के बाद मुख्यमंत्री केजरीवाल ने मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया। इसके अलावा घायलों को एक-एक लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया है। वहीं अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि घायलों का मुफ्त इलाज होगा।

पीएम मोदी ने दो लाख रुपये के मुआवजे का किया ऐलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस अग्निकांड में मारे गए लोगों के परिवारों के लिए 2-2 लाख रुपये के मुआवजे का ऐलान किया है। इसके अलावा आग में गंभीर रूप से घायल लोगों के लिए 50 हजार रुपये को भी मंजूरी दी गई है।

 

Live Updates…

12.14 PM दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने उच्च स्तरीय जांच की मांग की।

11.40 AM घायलों का हाल जानने एलएनजेपी अस्पताल पहुंचे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल।

11.32 AM मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घटना की मजिस्ट्रियल जांच का ऐलान किया।

11.30 AM मुख्यमंत्री केजरीवाल ने मृतकों को 10- 10 लाख का मुआवजा, घायलों को 1- 1 लाख के साथ मुफ्त इलाज का किया ऐलान।

11.18 AM मौके पर पहुंचे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल।

11.08 AM मौके पर पहुंचे केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, अनुराग ठाकुर और दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी।

10.46 AM केजरीवाल सरकार में मंत्री इमरान हुसैन घटना की जांच कराने का ऐलान करते हुए कहा है कि जो भी दोषी पाए जाएंगे, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

10.40 AM मौके पर पहुंचे बीजेपी के नेता विजय गोयल, कहा- इस घटना पर राजनीति ठीक नहीं।

10.26 AM दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी घटना स्थल के लिए रवाना हो गए हैं। शहरी विकास मंत्री हरदीप सिंह पुरी भी 11 बजे मौके पर पहुंचेंगे।

10.25 AM मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा- मौके पर जा रहा हूं।

 

10.15 AM मौत का आंकड़ा 43 पहुंचा। 34 की एलएनजेपी अस्पताल में मौत हुई, जबकि नौ ने लेडी हर्डिंग अस्पताल में आखिरी सांस ली।

10: 11 AM दिल्ली में फैक्टरी में लगी आग से 43 की मौत पर प्रधानमंत्री मोदी ने दुख जताया।

शॉर्ट सर्किट से लगी आग

आग लगने की वजह शॉर्ट सर्किट बताई जा रही है। फिलहाल फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पा लिया है।  इलाके में लोगों का रेस्क्यू किया जा रहा है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर हादसे पर दुख जताया है।

सीएम केजरीवाल ने जताया दुःख

क्या हुआ था?

जानकारी के मुताबिक अनाज मंडी में एक इमारत में आग लगी थी।  आग इतनी भयानक थी कि आग पर काबू पाने के लिए दमकल की 30 से ज्यादा गाड़ियां पहुंची। हालांकि देखते ही देखते आग बढ़ती ही चली गई।

घटना के बाद घायल लोगों को अस्पताल पहुंचाया गया।  वहीं अस्पताल की ओर से अब तक 43 लोगों की मौत की पुष्टि की जा चुकी है।  अकेले एलएनजेपी अस्पताल में ही कुल 49 लोगों को लाया गया था।

इनमें से 43 की मौत हो गई।  जानकारी के मुताबिक कई लोग 50 फीसदी से ज्यादा जल चुके हैं।  साथ ही घायलों को 4 अलग-अलग अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घायलों को आरएमएल, एलएनजेपी, हिंदू राव और सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

ये भी पढ़ें…दिल्लीः संसद भवन के कैंटीन में मिलने वाले खाने पर सब्सिडी खत्म करने का सुझाव, इस पर सभी दल सहमत

 

सुबह 5 बजे लगी आग

घटना सुबह 5 बजे की है।  मंडी में एक तीन मंजिला बेकरी है।  बेकरी की ऊपरी मंजिल पर आग लगी थी।  जिसके बाद आग ने पूरी इमारत को ही अपनी चपेट में ले लिया।  आग के चलते पूरा इलाका धुआं-धुआं हो गया।  इलाके के काफी कन्जेस्टेड होने के चलते भी आग ज्यादा फैली।  वहीं काफी संकरे इलाके में दमकल की गाड़ियों को पहुंचने में भी दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

इस घटना पर दिल्ली फायर सर्विस के डिप्टी चीफ फायर अधिकारी सुनील चौधरी ने बताया, ‘आग पर काबू कर लिया गया है।  दमकल की 30 से ज्यादा गाड़ियां मौके पर हैं और राहत-बचाव का कार्य जारी है। फायर अधिकारियों ने इसे दिल्ली का सबसे बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन बताया है।

ये भी पढ़ें…दिल्ली गैंगरेप: फांसी से बच सकते हैं निर्भया के दोषी, ये है बड़ी वजह

 

पहले भी सामने आई चुकी हैं ऐसी घटनाएं

बता दें कि बीते 19 नवम्बर को भी दिल्ली के अलीपुर स्थित एक गोदाम में आग लग गई थी। तब मौके पर मौजूद लोगों ने आग लगने की सूचना पुलिस और दमकल विभाग को दी थी। सूचना पाकर दमकल की 15 गाड़ियां मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया था।

बीते कुछ दिनों के अंदर दिल्ली में आग लगने के कई मामले सामने आए हैं। इससे पहले दिल्ली के नरेला इलाके में जूते की फैक्ट्री में आग लग गई थी।

आग की इस घटना में फैक्ट्री का सामान जलकर राख हो गया था। इससे करोड़ों रुपये का नुकसान हुआ था। सूचना के बाद मौके पर पहुंची दमकल विभाग की 24 गाड़ियों ने आग पर काबू पाया था।

ये भी पढ़ें…दिल्ली गैंगरेप: फांसी से बच सकते हैं निर्भया के दोषी, ये है बड़ी वजह