चीन-पाक का काल: इतना ताकतवर होगा ये राफेल, सहमे दुश्मन देश

शक्तिशाली भारतीय लड़ाकू विमान राफेल की ताकत में और इजाफा होने वाला है। अब ये लड़ाकू विमान हैमर मिसाइल से लैस होंगे। Hammer हवा से जमीन पर मार करने वाली मिसाइल किट है।

Published by Shreya Published: November 5, 2020 | 4:57 pm
RAFALE

नई दिल्ली: चीन के साथ पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर जारी तनाव के बीच राफेल लड़ाकू विमान का दूसरा जत्था भारत आ गया है। तीन और राफेल लड़ाकू विमान भारत को मिलने से भारतीय वायुसेना की ताकत में इजाफा हुआ है। बता दें कि लड़ाकू विमान राफेल भारतीय सेना को कुछ ही वक्त पहले ही मिल गया है। अब ये लड़ाकू विमन चीन और पाकिस्तान पर कहर बनकर टूटेंगे।

और ताकतवर होंगे लड़ाकू विमान राफेल

पहले से ही शक्तिशाली ये लड़ाकू विमान अब और ताकतवर होने वाले हैं। जी हां, अब ये फाइटर जेट और ज्यादा ताकतवर होने वाले हैं, क्योंकि अब ये हैमर मिसाइल से लैस होंगे। हैमर यानी हाइली एजाइल एंड मैनोवरेबल म्यूनिशन एक्टेंडेड रेंज (Hammer), ये हवा से जमीन पर मार करने वाली मिसाइल किट है। यह रॉकेट के जरिए चलती है।

यह भी पढ़ें: हैवानियत से हिला देश: फोड़ी महिला की आंख, सड़क पर पड़ी तड़पती रही बेचारी

फ्रांस ने राफेल को हैमर से लैस करने पर जताई सहमति

फ्रांस ने भारतीय लड़ाकू विमान राफेल को हैमर से लैस करने पर सहमति व्यक्त की है। बता दें कि राफेल पहले से भी घातक MICA, Meteor और SCALP मिसाइलों से लैस है। लेकिन अब हैमर मिसाइल से लैस होने बाद राफेल की ताकत में और ज्यादा इजाफा हो जाएगा। रिपोर्ट्स की मानें तो, हैमर काफी खतरनाक हथियार है, जिसे जीपीएस के बिना भी बहुत कम दूरी से 70 किलोमीटर की बहुत लंबी रेंज से लॉन्च किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें: हैवानियत से हिला देश: फोड़ी महिला की आंख, सड़क पर पड़ी तड़पती रही बेचारी

RAFALE FIGHTER JET
बुधवार को राफेल लड़ाकू विमान का दूसरा जत्था भारत पहुंचा (फोटो- ट्विटर)

बुधवार को बिना रुके भारत पहुंचे राफेल

बता दें कि भारतीय वायु सेना ने बताया कि राफेल विमानों का दूसरा जत्था फ्रांस से नॉन-स्टॉप उड़ान भरकर बुधवार रात 8:14 बजे भारत पहुंचा। यानी ये राफेल बिना रुके फ्रांस से भारत पहुंचे हैं। 3 राफेल लड़ाकू विमान फ्रांस के इस्ट्रेस से गुजरात के जामनगर आए। गौरतलब है कि फ्रांस में भारतीय वायुसेना के लड़ाकू पायलट प्रशिक्षण के लिए पहले से ही सात राफेल लड़ाकू विमानों का इस्तेमाल कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: दिन दहाड़े मार दी गोली, हत्यारे को लोगों ने पहनाई माला, छुड़ाने के लिए थाने को घेरा

अगले साल मिल सकते हैं सभी 36 विमान

भारतीय वायुसेना को हर दो महीने में तीन से चार राफेल जेट दिए जाने की उम्मीद है। तीन विमान जनवरी और फिर मार्च में 3, अप्रैल में 7 राफेल लड़ाकू विमान भारत को मिल जाएंगे। इस तरह अगले साल अप्रैल तक देश में विमानों की संख्या 21 हो जाएगी। सभी 36 विमानों के साल के अंत तक वायुसेना के जल्द लड़ाकू बेड़े में शामिल होने की संभावना है।

यह भी पढ़ें: आतंकियों को मारेगी ताकूबा: नई फौज को मिली जिम्मेदारी, खत्म होंगे बड़े-बड़े खूंखार

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App