सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के साथ वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की बैठक टली

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (पीएसबी) के सीईओ के साथ सोमवार को होने वाली समीक्षा बैठक को रद्द कर दिया गया है। सूत्रों के मुताबिक बैठक टाल दी गई है और नई तारीख जल्द बताई जाएगी।

नई दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (पीएसबी) के सीईओ के साथ सोमवार को होने वाली समीक्षा बैठक को रद्द कर दिया गया है। सूत्रों के मुताबिक बैठक टाल दी गई है और नई तारीख जल्द बताई जाएगी।

कोविड-19 संकट की वजह से प्रभावित अर्थव्यवस्था को संभालने के प्रयासों के तहत वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए होने वाली इस बैठक में कर्ज की मांग सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा होनी थी।

बैठक में ब्याज दरों में कमी का फायदा बैंकों द्वारा उधार लेने वालों तक पहुंचाने और कर्ज की अदायगी के संबंध में ऋण-स्थगन की प्रगति पर चर्चा भी होनी थी।

कोरोना राहत पैकेज का एलान, वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण की खास बातें

इस बैठक में कर्ज लेने वालों तक ब्याज दर में कमी का फायदा पहुंचाने और कर्ज की किस्तों के भुगतान के लिए बैंकों की ओर से मोहलत देने की योजना की प्रगति की भी समीक्षा की जानी थी।

आरबीआई ने 27 मार्च को प्रमुख ब्याज दर में 0।75 प्रतिशत की भारी कमी की थी और कर्ज लेने वालों को राहत देने के लिए बैंकों की ओर से स्वैच्छिक आधार पर तीन महीने की मोहलत देने की भी घोषणा की थी।

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने इस महीने की शुरुआत में सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्र के बैंकों के प्रमुखों के साथ अर्थव्यवस्था के हालात पर चर्चा के लिए बैठक की थी।

सबसे लंबा बजट भाषण देने वाली वित्त मंत्री बनी निर्मला सीतारमण

सरकारी बैंकों ने 5।66 लाख करोड़ रुपये के लोन मंजूर किए

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने यह भी कहा था कि सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों ने मार्च-अप्रैल के दौरान 5।66 लाख करोड़ रुपये के लोन मंजूर किये हैं। लॉकडाउन हटाये जाने के तुरंत बाद इनका वितरण शुरू हो जाएगा, जिससे आर्थिक गतिविधियां तेजी से आगे बढ़ेंगी।

SC, पिछड़े वर्ग के लिए 85000 करोड़ रुपये आवंटित: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App