Top

लालू को लगा झटका: चारा घोटाला मामला फिर अटका, बढ़ी सजा की अवधि

मुख्यमंत्री लालू यादव की हालत स्थिर है लेकिन यह बताया जा रहा है कि लालू यादव के शरीर के कुछ भाग काम नहीं कर रहा है।

Chitra Singh

Chitra SinghBy Chitra Singh

Published on 5 March 2021 8:11 AM GMT

लालू को लगा झटका: चारा घोटाला मामला फिर अटका, बढ़ी सजा की अवधि
X
लालू को लगा झटका: चारा घोटाला मामला फिर अटका, बढ़ी सजा की अवधि
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: जमानत की आस में बैठे बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव को एक बड़ा झटका मिला है। बता दें कि दिल्ली के एम्स (AIIMS) में भर्ती लालू यादव के पक्ष में दो अहम फैसले सामने आए है। खबर है कि लालू यादव के इलाज में चार हफ्ते और लगेंगे। लालू यादव के इलाज की अवधि बढ़ने के कारण उनकी सजा की भी अवधि बढ़ा दी गई है। साथ ही फोन कॉल की जांच प्रक्रिया में अधिकारियों की लापरवाही को देखते हुए उन पर कठोर कार्रवाई की मांग की गई है।

लालू यादव की क्या है हालत

बता दें कि बिहार के मुख्यमंत्री लालू यादव की हालत स्थिर है लेकिन यह बताया जा रहा है कि लालू यादव के शरीर के कुछ भाग काम नहीं कर रहा है। यही वजह है कि उनके इलाज की अवधि चार हफ्ते के लिए बढ़ा दी गई।

ये भी पढ़ें... धनंजय सिंह ने किया सरेंडर, अजीत हत्‍याकांड में घोषित था 25 हजार का ईनाम

चार हफ्ते और बढ़ी सजा

वहीं जेल के सुपरिटेंडेंट हामिद अख्तर ने इस बारे में जानकारी दी है। उन्होंने बताया है, "लालू यादव को एक महीने के लिए आईजी जेल के द्वारा इलाज के लिए दिल्ली एम्स भेजा गया था, लेकिन एम्स के डॉक्टरों की टीम ने लालू के इलाज के लिए 3 से 4 हफ्ते का और समय मांगा, जिसे जेल आईजी ने स्वीकार कर लिया। उनके बेहतर इलाज के लिए 4 हफ्ते का और सजा अवधि बढ़ाई गई है।"

Lalu Prasad Yadav

फोन की जांच प्रक्रिया में अधिकारियों की दिखी लापरवाही

इसके अलावा लालू यादव के फोन की जांच प्रक्रिया में अधिकारियों की लापरवाही देखने को मिली है, जिसे लेकर उन पर कठोर कार्रवाई की जाएगी। इस मामले को लेकर जेल आईजी और जिला प्रशासन ने जांच कराई थी। जांच के बाद जेल प्रशासन ने इसकी रिपोर्ट जिला प्रशासन को दे दी है। हामिद अख्तर ने जानकारी देते हुए कहा, "जांच रिपोर्ट में लालू की सुरक्षा में तैनात पुलिस कुछ पदाधिकारी और कुछ पुलिसकर्मी दोषी है। लालू यादव के द्वारा जिस वक़्त कॉल किया गया, उस समय का मिलान ड्यूटी रोस्टर से किया जायेगा।"

ये भी पढ़ें... ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे, भारत और बांग्लादेश के लिए जरूरी है ये तराना

क्या कहती है रिपोर्ट

बताते चलें कि रिपोर्ट में बताया गया है, "लालू की सुरक्षा में तैनात जवानों की लापरवाही से ही मोबाइल लालू तक पहुंचा है। कैली बंगले में लालू यादव की सुरक्षा में तैनात रांची पुलिस के जवानों को ठीक ढंग से तलाशी नहीं ली जाने के वजह से फोन के सेवादारों या अन्य लोगों के माध्यम से लालू तक मोबाइल संभवत पहुंचा है, जिससे लालू यादव ने अन्यत्र बात की होगी।"

दोस्तों देश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Chitra Singh

Chitra Singh

Next Story