सोने-चांदी के भाव बढ़े: आज ही खरीद लें, 54000 तक पहुंच सकते हैं दाम

शुक्रवार के मुकाबले मंगलवार यानी आज 26 मई को सोना 10 रुपये प्रति 10 ग्राम सस्ता हो गया तो वहीं चांदी की कीमतों में बड़ा उछाल देखने को मिल रहा है।

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। वायरस के बढ़ते प्रकोप पर काबू पाने के लिए सरकार की ओर से देश में लॉकडाउन का चौथा चरण जारी है। ऐसे में देश में महंगाई की चोट अब आम आदमी पर पड़नी शुरू हो गई है। ऐसे में अब सोने-चांदी के शौकीन लोगों के लिए एक और झटका है। क्योंकि सोने चांदी की कीमतों में लगातार उछल आ रहा है। आज एक बार फिर चांदी की कीमतों में भारी उछाल देखने को मिला।

सोने चांदी भावों में हो रही बढ़ोत्तरी

महंगाई इ मार लगातार आम आदमी पर पड़ती जा रही है। ऐसे में सोने चांदी के दाम लगातार आसमान छूते जा रहे हैं। शुक्रवार के मुकाबले मंगलवार यानी आज 26 मई को सोना 10 रुपये प्रति 10 ग्राम सस्ता हो गया तो वहीं चांदी की कीमतों में बड़ा उछाल देखने को मिल रहा है। इससे पहले आज दिन की शुरुआत में 10 ग्राम 24 कैरेट सोना 47090 रुपये पर बिका। वहीं इससे पहले शुक्रवार को सोने की कीमत 47100 रुपये थी। आज चांदी के भाव में जबरदस्त इजाफा हुआ है।

ये भी पढ़ें-     अभी-अभी ब्रिटेन से प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन से जुड़ी आई ये बड़ी खबर

940 रुपये प्रति किलो उछाल के साथ चांदी 47985 रुपये पर पहुंच गई है। वहीं 23 कैरेट और 22 कैरेट सोने की कीमतों में भी मामूली गिरावट दर्ज की गई है। सोने की कीमतों में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। ऐसे में कुछ जानकार इस बात की उम्मीद कर रहे हैं कि अगले 12 महीने में गोल्ड का भाव 54,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर को छू सकता है।

गोल्ड में निवेश करना सबसे सुरक्षित

 

दरअसल, किसी भी वित्तीय संकट या ऐसे समय बाजार में जब उथल-पुथल सबसे ज्यादा दिखाई देती है। उस दौरान गोल्ड में निवेश करना सबसे बेहतर विकल्प माना जाता है। क्योंकि इसमें जोखिम कम और रिटर्न अच्छा होता है। पिछले एक साल में गोल्ड पर 40 फीसदी का रिटर्न मिला है। वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल की एक रिपोर्ट के अनुसार 2020 के पहले तिमाही के दौरान गोल्ड में जबरदस्त इन्वेस्टमेंट डिमांड देखने को मिली है

ये भी पढ़ें-    सामने आई लापरवाही: कोरोना संक्रमित मरीजों का ऐसे हो रहा उपचार

इस रिपोर्ट में कहा गया, ‘साल-दर-साल के आधार पर इस दौरान गोल्ड डिमांड 80 फीसदी बढ़करर 539.6 टन रहा।’ कोरोना वायरस महामारी के आर्थिक प्रभाव को लेकर अनिश्चितता बनी हुई है। अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष, ऑर्गेनाइजेशनन फॉर इकोनॉमिक को-ऑपरेशन एंड डेवलपमेंट, मूडीज और विश्व बैंक जैसी संस्थाओं ने वैश्विक ग्रोथ के अनुमान में भारी कमी किया है। यही कारण है कि गोल्ड में निवेश करने को सबसे सुरक्षित विकल्प माना जा रहा है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App