×

भारत में यहां पहली बार होगा किन्नरों का सामूहिक विवाह

इस अवसर पर 15 ट्रांसजेंडर्स युवतियां अपने पुरुष मित्रों के साथ शादी के बंधन में बधेंगी। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल नवविवाहित किन्नरों के कन्यादान में शिरकत करेंगे।

Shivakant Shukla

Shivakant ShuklaBy Shivakant Shukla

Published on 11 March 2019 12:29 PM GMT

भारत में यहां पहली बार होगा किन्नरों का सामूहिक विवाह
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

रायपुर: थर्ड जेंडर समुदाय यानि किन्नर को कानूनी मान्यता मिलने के बाद अब इस समुदाय में तेजी के साथ जागरूकता दिखाई देने लगी है।

इस समुदाय के लोगों के जीवन स्तर में भी काफी सुधार देखने को मिल रहा है और वे हर तरह से समाज की मुख्य धारा से जुड़ रहे हैं। विश्व में पहली बार छत्तीसगढ़ के रायपुर में किन्नरों के सामूहिक विवाह का आयोजन होने जा रहा है।

ये भी पढ़ें— एनसीपी प्रमुख शरद पवार का ऐलान- अब नहीं लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

चित्रगाही फिल्म्स कंपनी की ओर से आगामी 30 मार्च को पूरे रायपुर में ट्रांसजेंडर समुदाय का विवाह का आयोजन किया जाएगा। यह विवाह गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी दर्ज होगा। इस विवाह समारोह में पूरे देश के अलग-अलग राज्यों से आए 15 जोड़े शामिल होंगे।

इस अवसर पर 15 ट्रांसजेंडर्स युवतियां अपने पुरुष मित्रों के साथ शादी के बंधन में बधेंगी। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल नवविवाहित किन्नरों के कन्यादान में शिरकत करेंगे।

आयोजन कमेटी की रवीना बरिहा ने कहा कि सामूहिक विवाह लैंगिक समानता की ओर बढ़ाया गया पहला कदम है। इसके जरिए किन्नर समाज के युवा भी अब पारिवारिक संस्कारों में बंध कर अपने सामाजिक दायित्वों को पूरा कर सकेंगे। ऐसे में यह सामूहिक विवाह किन्नर समुदाय के अन्य लोगों को भी प्रेरणा मिलेगी।

ये भी पढ़ें— लोकसभा चुनाव : जानिए मुंबई दक्षिण लोकसभा सीट के बारे में, सिर्फ यहां…

Shivakant Shukla

Shivakant Shukla

Next Story