ट्रंप के सामने मोदी ने पाक पर बोला करारा हमला, पढ़ें आतंकवाद पर पीएम के कड़े बयान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को एनआरजी स्टेडियम में जोश और जज्बे से भरपूर 50 हजार लोगों और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मौजूदगी में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले से बौखलाए पाकिस्तान पर करारा वार किया है।

Published by Aditya Mishra Published: September 23, 2019 | 8:30 am
Modified: September 23, 2019 | 8:39 am

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को एनआरजी स्टेडियम में जोश और जज्बे से भरपूर 50 हजार लोगों और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मौजूदगी में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले से बौखलाए पाकिस्तान पर करारा वार किया है।

अमेरिकी धरती से पीएम ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पर तंज कसते हुए कहा, कुछ लोग ऐसे हैं, जिन्हें अनुच्छेद 370 से दिक्कत है। जिनसे अपना देश संभल नहीं रहा है।

ये वे लोग हैं जो अशांति चाहते हैं, आतंक के समर्थक हैं, आतंक को पालते पोसते हैं, उनकी पहचान सिर्फ आप ही नहीं पूरी दुनिया अच्छे से जानती है।  इन लोगों ने भारत के प्रति नफरत को ही अपनी राजनीतिक का केंद्र बना लिया है।

ये भी पढ़ें…अमेरिका के ह्यूस्टन में आज हाउडी मोदी का मेगा शो, राष्ट्रपति ट्रंप भी होंगे मौजूद

वहीं, पाक का नाम लिए बगैर उस पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा, अमेरिका में 9/11 हो या फिर भारत में 26/11, उसके साजिशकर्ता कहां पाए जाते हैं?

उन्होंने आतंकवाद के खिलाफ वैश्विक बिरादरी को आगे आने की अपील करते हुए कहा, साथियों अब समय आ गया है कि आतंकवाद के खिलाफ और आतंकवाद को बढ़ावा देने वालों के खिलाफ निर्णायक लड़ाई लड़ी जाए।

आतंकवाद के खिलाफ मोदी को मिला ट्रंप का साथ

उन्होंने कहा, आतंक के खिलाफ ट्रंप हमारे साथ हैं। इसके साथ ही मोदी ने फिर ट्रंप समेत पूरे स्टेडियम को खडे़ होकर तालियां बजाने पर मजबूर कर दिया।

बता दें कि मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 की अधिकतर धाराओं को पांच अगस्त को निरस्त कर दिया और संसद में इस कदम को मंजूरी दी गई।

प्रधानमंत्री ने इस फैसले का जिक्र करते हुए कहा कि देश के सामने 70 साल से एक बड़ी चुनौती थी जिसे कुछ दिन पहले भारत ने ‘फेयरवेल’ दे दिया है। प्रधानमंत्री के इतना कहते ही एनआरजी स्टेडियम में बैठे करीब 50 लोगों ने तालियां बजाकर मोदी सरकार के इस फैसले का समर्थन किया।

ये भी पढ़ें…‘हाउडी मोदी’ प्रोग्राम में डोनाल्ड ट्रंप ही नहीं अमेरिका के ये 26 नेता भी सुनेंगे मोदी को

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को मिले समान अधिकार

पीएम मोदी ने कहा कि अनच्छेद 370 ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को विकास से और समान अधिकारों से वंचित रखा था। इस स्थिति का लाभ आतंकवाद और अलगाववाद बढ़ाने वाली ताकतें उठा रहीं थीं।

इसके साथ ही उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि इसके प्रावधानों के निरस्तीकरण से क्षेत्र का विकास होगा और वहां समृद्धि आएगी तथा महिलाओं, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजातियों के खिलाफ भेदभाव को खत्म करेगा।

उन्होंने कहा, ‘अब भारत के संविधान ने जो अधिकार बाकी भारतीयों को दिए हैं, वहीं अधिकार जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के लोगों को मिल गए हैं। वहां की महिलाओं-बच्चों-दलितों के साथ हो रहा भेदभाव खत्म हो गया है।’

आतंकवाद के खिलाफ ‘निर्णायक जंग शुरू करने का आह्वान

प्रधानमंत्री ने आतंकवाद के खिलाफ ‘निर्णायक जंग’ शुरू करने का आह्वान किया और अमेरिका तथा मुंबई के आतंकवादी हमलों का संदर्भ देते हुए कहा, ‘आपको 9/11 और 26/11 आतंकवादी हमलों के साजिशकर्ता कहां मिलेंगे।

‘ पीएम मोदी ने कहा कि सरकार के पास संसद के उच्च सदन में बहुमत नहीं था। इसके बावजूद अनुच्छेद 370 की अधिकतर प्रावधानों को समाप्त करने के फैसले संसद ने दो तिहाई बहुमत से पारित किया।

कट्टर इस्लामिक आतंकवाद के खिलाफ बचनबद्ध अमेरिका

पीएम मोदी ने ऐसे लोगों पर देश में आतंकवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि आतंकवाद के खिलाफ हमारी लड़ाई में अमेरिका के राष्ट्रपति मजबूती से हमारा सहयोग कर रहे हैं।

वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि वो कट्टर इस्लामिक आतंकवाद से निर्दोष लोगों की जान बचाने के लिए बचनबद्ध हैं। ट्रम्प और मोदी दोनों ही आतंक के खिलाफ लड़ाई में एक साथ हैं।

27 सितंबर को न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक में पाकिस्तान के खिलाफ भारत अपने दलीलों में दोनों नेताओं द्वारा के वक्तव्यों को शामिल करेगा।

मोदी मोदी ने की ट्रंप की तारीफ़

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को हाउडी मोदी इवेंट के अपने संबोधन में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की जमकर तारीफ की। पीएम मोदी राष्ट्रपति ट्रंप के साथ मंच साझा करते हुए बोले, ‘ भारत में हम राष्ट्रपति ट्रंप से बहुच अच्छी तरह से जुड़े हैं।

अमेरिका में अबकी बार ट्रंप सरकार.’ मोदी ने कहा, ‘ट्रंप किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं. अरबों लोग ट्रंप के शब्द-शब्द को फॉलो करते हैं. विश्व की राजनीति में ट्रंप का बड़ा कद है।’

ये भी पढ़ें…हाउडी मोदी पर राहुल गांधी को मिला करारा जवाब, बरस पड़ीं उमा भारती