खतरनाक आतंकी प्लान! दहशत फैलाने की साजिश,ब्लास्ट में उड़ जाते परखच्चे

बता दें कि पिछले कई महीनों से आतंकियों पर सेना की ताबड़तोड़ कार्रवाई से आतंकी संगठन बौखालए हुए हैं। लगातार सेना को निशाना बनाने और घाटी का माहौल खराब करने की फिराक में जुटे हैं।

जम्मू कश्मीर: 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के मौके पर अपने नापाक इरादों को अंजाम देने के लिए आतंकी फिराक में लगे हुए हैं। इसी कड़ी में जम्मू कश्मीर के बारामुला जिले में आतंकियों सेना के जवानों को निशाना बनाने के लिए एक पुलिया के नीचे आईईडी प्लांट की। लेकिन सुरक्षाबलों ने उनके इस नापाक मंसूबे पर पानी फेर दिया।

जवानों ने करीब तीन किलोग्राम आईईडी बरामद की है। सुरक्षाबल व बम निरोधक दस्ता मौके पर है। आईईडी को निष्क्रिय करने का कार्य जारी है। गोंडबल पंजाला राफियाबाद इलाके मेंं आतंकियों ने सेना के काफिले को निशाना बनाने के लिए यह साजिश रची।

ये भी पढ़ें—पाक की नापाक हरकत, गैर मुस्लिमों के खिलाफ उठाया ये बड़ा कदम

बता दें कि पिछले कई महीनों से आतंकियों पर सेना की ताबड़तोड़ कार्रवाई से आतंकी संगठन बौखालए हुए हैं। लगातार सेना को निशाना बनाने और घाटी का माहौल खराब करने की फिराक में जुटे हैं।

इस साजिश के बाद आशंका जताई जा रही है कि जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे बड़े आतंकी हमला कर सकते हैं। इसे देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। कश्मीर आने-जाने वाले लोगों के पहचान पत्रों की भी जांच की जा रही है। वाहनों और संदिग्धों पर नजर रखने के लिए पुलिस से लेकर अर्धसैनिक बल तैनात किए गए हैं।

आवाजाही करने वाले वाहनों पर कड़ी नजर

पिछले वर्ष 14 फरवरी 2019 को पुलवामा हमले में यहां कार का इस्तेमाल हुआ। जिसको देखते हुए यहां वाहनों की मूवमेंट पर कड़ी नजर रखी जा रही है। सुरक्षा व्यवस्था दुरूस्त रखते हुए कठुआ, सांबा, जम्मू,राजोरी, रियासी, उधमपुर,रामबन में जवान तैनात कर दिए गए हैं।

ये भी पढ़ें—अखिलेश ने भी छोड़ा राहुल का साथ, कांग्रेस को धोखा दे गये ये चार दल

ऐसे में गणतंत्र दिवस के पास इसी तरह का बड़ा आतंकी हमला होने की सूचनाएं आ रही हैं। इसे देखते हुए हाइवे पर कड़ी चौकसी की गई है।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App