×

शाहीन बाग में फहराया गया झंडा, कुछ ऐसा रहा नजारा

नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है। दिल्ली का शाहीन बाग इस विरोध प्रदर्शन का केंद्र बना हुआ है। पिछले कई दिनों से महिलाएं यहां....

Deepak Raj

Deepak RajBy Deepak Raj

Published on 26 Jan 2020 9:32 AM GMT

शाहीन बाग में फहराया गया झंडा, कुछ ऐसा रहा नजारा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली। नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है। दिल्ली का शाहीन बाग इस विरोध प्रदर्शन का केंद्र बना हुआ है। पिछले कई दिनों से महिलाएं यहां पर इस कानून का विरोध कर रही हैं और धरने पर बैठी हैं। इस बीच आज गणतंत्र दिवस के मौके पर यहां पर तिरंगा फहराया गया।

ये भी पढ़ें- सरकार करेगी किसानों के खाते में 7000 करोड़ ट्रांसफर,अब तक मिला इतने को फायदा

यहां पूरे इलाके को तिरंगे के रंग से सजाया गया और लोगों ने तिरंगा झंडा फहराया। यहां धरने पर बैठे लोग लगातार नागरिकता संशोधन कानून, एनआरसी और एनपीआर का विरोध कर रहे हैं। लोग सीएए कानून को वापस लिए जाने की मांग कर रहे हैं।

सीएए के खिलाफ शाहीन बाग में विरोध प्रदर्शन चल रहा है

एक तरफ जहां शाहीन बाग में लगातार सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन चल रहा है, तो दूसरी तरफ केंद्र सरकार इस कानून को लेकर सख्त है। गृहमंत्री अमित शाह ने साफ कर दिया है कि वह इस कानून को वापस नहीं लेंगे, जिसे विरोध करना है करे।

ये भी पढ़ें- योगी सरकार ने 6 IAS अधिकारियों का किया तबादला, देखें किसे कहां मिली तैनाती

बता दें कि इससे पहले शाहीन बाग प्रदर्शन को कवर करने गए पत्रकार दीपक चौरसिया के साथ यहां मारपीट हुई थी। लोगों ने दीपक चौरसिया के साथ मारपीट की और कैमरा तोड़ दिया। वहीं इस मामले में पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है।

मुस्लिम महिलाएं धरने पर बैठी हैं

बता दें कि शाहीन बाग में 15 दिसंबर से ही बड़ी संख्या में मुस्लिम महिलाएं धरने पर बैठी हैं। ये महिलाएं नागरिकता संशोधन कानून और एनआरसी का लगातार विरोध कर रही हैं। इनका कहना है कि ये कानून उनके साथ भेदभाव करता है।

वे पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह से इस कानून को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। हालांकि, अमित शाह ने पिछले दिनों कहा था कि सरकार इस मुद्दे पर पीछे नहीं हटेगी।

Deepak Raj

Deepak Raj

Next Story