भारत के इस कदम से थर-थर कांप उठा पाकिस्तान, आकाश में बढ़ाई विमानों की गश्त

म्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में भारतीय सेना के कर्नल के शहीद होने के बाद पाकिस्तान, भारत की जवाबी कार्रवाई के डर से सहम गया है। एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए पाकिस्तानी वायु सेना ने अपने इलाके में जेट विमानों की गश्त तेज कर दी है।

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में भारतीय सेना के कर्नल के शहीद होने के बाद पाकिस्तान, भारत की जवाबी कार्रवाई के डर से सहम गया है।

एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए पाकिस्तानी वायु सेना ने अपने इलाके में जेट विमानों की गश्त तेज कर दी है। पाकिस्तान को इस बात का डर है कि भारत, आतंकियों की इस कायराना हरकत के खिलाफ बड़ी कार्रवाई कर सकता है इसलिए उसने सीमा से सटे पाकिस्तानी इलाकों में हवाई पैट्रोलिंग बढ़ा दी है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सरकारी सूत्रों ने बताया कि घटना के समय पाकिस्तान पहले से ही एक हवाई अभ्यास कर रहा था, जिसके बारे में भारत को भी जानकारी थी। उन्होंने कहा, “कर्नल की शहादत के तुरंत बाद, पाकिस्तानी वायु सेना ने अपने गश्ती विमानों में एफ -16 और जेएफ -17 सहित लड़ाकू विमानों को शामिल किया जिन पर हमारी सर्विलांस टीम की निगाह है।

पागल हुआ पाकिस्तान, भारत पर फिर लगा दिया ये झूठा आरोप

इमरान ने दिया ऐसा बयान

सूत्रों ने कहा कि पाकिस्तानी सीमा पर हवाई गश्त बढ़ने के बाद, ऐसा लग रहा है कि वे पाक के इशारे पर कश्मीर घाटी में बढ़ रही हिंसा के स्तर पर भारतीय पक्ष से किसी भी संभावित जवाबी कार्रवाई से वो सावधान होने की कोशिश में लगे हैं।

इससे पहले पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को दावा किया था कि भारत मौजूदा तनाव का इस्तेमाल कर (सीमा पार से आतंकवादियों की) घुसपैठ के बहाने उनके देश के खिलाफ छद्म अभियान छेड़ सकता है।

खान ने ट्विटर पर यह टिप्पणी की थी। दरअसल, भारत ने कहा था कि कश्मीर में अशांति के पीछे पाकिस्तान का हाथ है जिस पर दोनों देशों के बीच जुबानी जंग तेज हो गई है।

इमरान ने एक बार फिर से भारत की सत्तारूढ़ पार्टी पर उन नीतियों पर चलने का आरोप लगाया था ,जो दक्षिण एशिया में शांति को जोखिम में डाल सकती हैं। उन्होंने कहा, ‘दक्षिण एशिया में शांति एवं सुरक्षा को भारत द्वारा जोखिम में डाले जाने से पहले अंतरराष्ट्रीय समुदाय को अवश्य ही कार्रवाई करनी चाहिए।’

पाकिस्तान से आई तबाही: भारत में किसानों के लिए खतरे की घंटी, जल्द होगा रोकना

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App