सेना ने फहराया तिरंगा: भारत ने खदेड़ा चीन को, कर लिया इस पर कब्जा

भारतीय सेना ने पैंगोंग झील (Pangong Lake) के दक्षिणी हिस्से में भारत ने अपना अधिकार जमा लिया है। यहां की कई चोटियों पर भारतीय सेना के जवान तैनात हैं।

Published by Shreya Published: September 1, 2020 | 4:00 pm
Army hoisted the tricolor

सेना ने फहराया तिरंगा: भारत ने खदेड़ा चीन को, कर लिया इस पर कब्जा (PHOTO- Social Media)

नई दिल्ली: पूर्वी लद्दाख में पैंगोंग लेक के पास घुसपैठ की कोशिश में लगे चीन के सैनिकों को इंडियन आर्मी ने मुंहतोड़ जवाब दिया। चीनी सेना की घुसपैठ के दो दिन बाद लद्दाख बॉर्डर को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। सेना के सूत्रों के मुताबिक, भारतीय सेना ने पैंगोंग झील (Pangong Lake) के दक्षिणी हिस्से में भारत ने अपना अधिकार जमा लिया है। यहां की कई चोटियों पर भारतीय सेना के जवान तैनात हैं।

झड़प वाली विवादित जगह पर सेना का कब्जा

भारतीय सेना के जाबांज सैनिकों ने झड़प वाली विवादित जगह पर कब्जा कर लिया है। सूत्रों ने यह भी बताया कि हमने मुश्किल समझे जाने वाले स्पांगुर गैप, स्पांगुर झील और इसके किनारे की चीनी सड़क पर भी कब्जा कर लिया है। हमारे जवान चोटियों पर काबिज हैं, क्योंकि एलएसी को लेकर भारत की स्थिति एकदम साफ है।

यह भी पढ़ें: प्रणब दा को राजकीय सम्‍मान के साथ अंतिम सलामी, बेटे ने किया अंतिम संस्‍कार

Indian And Chinese ARMY

PLA से पहले भारतीय सैनिकों ने चोटी पर किया कब्जा

चीनी सेना ने पैंगोंग झील के दक्षिणी किनारे के पास स्थित ऊंचाई वाले स्थानों पर कैमरा और निगरानी उपकरण लगाए हुए थे, लेकिन चीन की इन तैयारियों के बाद भी भारतीय सेना के जाबांज जवानों ने चीन की PLA के सैनिकों से पहले एक अहम चोटी पर कब्जा कर लिया है। इंडियन आर्मी ने चीन से पहले ही इलाके पर अपना कब्जा कर लिया।

यह भी पढ़ें: भूमि विकास बैंक तिर्वा के चुनाव पर बवाल, सपा ने योगी सरकार पर लगाया आरोप

चीन ने लगाए थे उन्नत कैमरे और निगरानी उपकरण

सूत्रों के मुताबिक, चीनी सेना ने ऊंचाई वाले स्थानों पर उन्नत कैमरे और निगरानी उपकरण तैनात किए थे, ताकि भारत की गतिविधियों पर नजर रख सके। लेकिन इतनी तैयारियों के बाद भी भारतीय जवानों ने वहां ऊंचाई वाले इलाके को अपने अधिकार कर लिया।

यह भी पढ़ें: जीडीपी के मामले में चीन ने कैसे सभी को पछाड़ा, कौन देश कितना गिरा, यहां जानिए सबकुछ

एलएसी पर भी लगाए हैं उपकरण

यहीं नहीं चीनी सेना ने एलएसी पर भी निगरानी उपकरण लगाए हैं, ताकि भारतीय गतिविधियों पर नजर रखी जा सके और जब भारतीय जवाब चीन द्वारा दावा किए गए क्षेत्रों में गश्त करें, तो वे प्रभावी रूप से प्रतिक्रिया देने में सक्षम हों। भारत द्वारा इन ऊंचाई वाले क्षेत्रों को कब्जे में लेने के बाद चीन ने धीरे से कैमरों और निगरानी उपकरणों को अपने क्षेत्रों से हटा लिया।

यह भी पढ़ें: दलित उत्पीड़न के विरोध में ‘आप’ के कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन, लाठीचार्ज

इन क्षेत्रों पर चीन जताता है अपना अधिकार

बता दें कि चीन हमेशा ऊंचाई वाले क्षेत्रों पर अपना अधिकार जताता आया है। रिपोर्ट के मुताबिक, पैंगोंग सो झील के दक्षिणी हिस्से में स्थित चोटी पर चीन कब्जा करना चाहता है। क्योंकि यह रणनीतिक लिहाज से काफी अहम मानी जाती है। चीन इसी पर कब्जा जमाने के लिए घुसपैठ कर रहा था। दरअसल इस ऊंचाई से झील और आसपास के दक्षिणी तट पर निगरानी की जा सकती है।

यह भी पढ़ें: रिया झूठी साबित: सुशांत के दोस्त ने खोला राज, सामने आई सच्चाई

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App