Vaccination Target से चूका भारत, रह गया लक्ष्य अधूरा, इतने लोगों को लगा टीका

वैक्सीनेशन ड्राइव के पहले दिन अभियान की सफलता के बाद स्वास्थ्य मंत्रालय ने बयान जारी कर बताया कि टीकाकरण सफल रहा, हालंकि पहले दिन टीकाकरण को लेकर जो लक्ष्य तय किया गया था, वो पूरा नहीं हो सका।

Published by Shivani Awasthi Published: January 16, 2021 | 9:58 pm
india corona-vaccination-target-failed to achieved says health-ministry

लखनऊ: देश में आज दुनिया के सबसे बड़े कोरोना वैक्सीनेशन अभियान की शुरुआत हुई। देश के सभी राज्यों में तीन हजार छह केंद्र टीकाकरण के लिए बनाये गए। इस दौरान पहले चरण में 3 लाख लोगों को टीका दिए जाने का लक्ष्य था हालंकि ये लक्ष्य पूरा नहीं हो सका और एक दिन में मात्र 1 लाख 65 हजार 714 लोगों को ही वैक्सीन लग पाई।

3 लाख लोगों के टीकाकरण का लक्ष्य

वैक्सीनेशन ड्राइव के पहले दिन अभियान की सफलता के बाद स्वास्थ्य मंत्रालय ने बयान जारी कर बताया कि टीकाकरण सफल रहा, हालंकि पहले दिन टीकाकरण को लेकर जो लक्ष्य तय किया गया था, वो पूरा नहीं हो सका। टीकाकरण अभियान के पहले दिन 1 लाख 65 हजार 714 लोगों को कोरोना की वैक्सीन दी गयी।

ये भी पढ़ें- जीत गया भारत: वैक्सीनेशन अभियान हुआ सफल, अब तक कोई साइड इफेक्ट नहीं

1 लाख 65 हजार 714 लोगों को लगी वैक्सीन

दरअसल, 3 लाख फ्रंट लाइन वारियर्स को टीका लगाएं जाने की योजना थी, जिसके लिए 3,351 सेंटर बनाए गए थे। इन वैक्सीनेशन सेंटर पर 16,755 लोगों की ड्यूटी लगाई गई। मंत्रालय के मुताबिक, वैक्सीन लेने के बाद किसी को भी अस्पताल में भर्ती कराने की जरूरत नहीं पड़ी।

korona vaiccination

इन वरिष्ठ लोगों को लगा टीकाः

स्वास्थ्य कर्मियों के साथ-साथ एम्स दिल्ली के निदेशक रणदीप गुलेरिया, नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल, भाजपा सांसद महेश शर्मा और पश्चिम बंगाल के मंत्री निर्मल माजी उन लोगों में शामिल हैं जिन्हें टीके की पहली खुराक दी गई। पॉल कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए चिकित्सा उपकरण एवं प्रबंधन को लेकर गठित अधिकार समूह के प्रमुख भी हैं। अभियान की शुरुआत से पहले राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने  कहा कि टीके की दो खुराक लेनी बहुत जरूरी है और इन दोनों के बीच लगभग एक महीने का अंतर होना चाहिए।

ये भी पढ़ें- कोरोना वैक्सीनेशन: दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान, ऐसा रहा पहला दिन

वहीं वैक्सीनेशन के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्ष वर्धन ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों संग रिव्यू मीटिंग की, जिसमें उन्होने अगले चरण में वैक्सीन सेंटर पर टीका लगाने वालों की संख्या को बढ़ाने का निर्देश दिया।

किस राज्य में कितने लोगों का वैक्सीनेशन

बिहार में 301 वैक्सीनेशन सेंटर में 16 हजार 401 लोगों को टीका लगा।

दिल्ली में 81 वैक्सीनेशन सेंटर मे 3403 लोगों को टीका लगा।

गुजरात में 8557 लोगों को टीका लगाया गया।

उत्तर प्रदेश में 370 वैक्सीनेशन सेंटर पर 15 हजार 975 लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई गई।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App