Top

देश का पहला Sea Plane: उड़ान भरने के लिए हो जाएं तैयार, इस दिन से शुरुआत

गुजरात चुनाव के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार साबरमती रिवर फ्रंट में सी प्लेन से उड़ान भरी तो सी प्लेन को लेकर लोगों की उत्सुकता जगी।

Shivani

ShivaniBy Shivani

Published on 25 Oct 2020 4:49 PM GMT

देश का पहला Sea Plane: उड़ान भरने के लिए हो जाएं तैयार, इस दिन से शुरुआत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली. भारत में पहला सी प्लेन (Sea Plane) जल्द उड़ान भरने वाला है। 31 अक्टूबर को साबरमती रिवरफ्रंट से स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी के बीच सी प्लेन का संचालन शुरू होने वाला है। इस बात की जानकारी केंद्रीय मंत्री मनसुख मंडाविया ने इस बात की जानकारी दी। बता दें कि इसके पहले पीएम मोदी भारत में प्रधामंत्री नरेंद्र मोदी ने सी प्लेन से उड़ान भरी थी, उनकी यात्रा साबरमती रिवर फ्रंट से अहमदाबाद तक रही।

31 अक्टूबर से गुजरात में सी प्लेन की शुरुआत

दरअसल, गुजरात चुनाव के दौरान 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पहली बार साबरमती रिवर फ्रंट में सी प्लेन से उड़ान भरी तो उसके बाद से सी प्लेन को लेकर लोगों की उत्सुकता जगी। सरकार ने 100 सी प्लेन की योजना का एलान किया। वहीं अब देश का पहला सी प्लेन शुरू होने जा रहा है।

India first seaplane to take off in Gujarat on October 31 from sabarmati riverfront

साबरमती रिवरफ्रंट से स्टैच्यू ऑफ़ यूनिटी के बीच उड़ान भरेगा Sea Plane

जानकारी के मुताबिक, स्पाइसजेट विमानन सेवा प्रदाता कम्पनी इसके लिए मालदीप से एक सीप्लेन खरीद रही है, जो कल यानी 26 अक्टूबर तक आ जाएगा। ये सीप्लेन करीब 250 किलोमीटर के मार्ग पर सेवा प्रदान करेगा। सरकार की उड़ान योजना के तहत स्पाइसजेट को भी फायदे होंगे।

ये भी पढ़ें- ऋतिक का सपना पूरा: खरीदा ऐसा आशियाना अपार्टमेंट, ख़र्च किए करोड़ो रुपए…

स्पाइसजेट विमानन सेवा करेगी संचालन

इस बारे में केंद्रीय मंत्री मनसुख मंडाविया ने बताया कि 'भारत की पहली सीप्लेन सेवा की शुरुआत होने के बाद ये देश की नई पहल होगी। वहीं इस योजना से पर्यटन को काफी फायदा मिलेगा। सी प्लेन सेवा के लिए इसी साल जुलाई में गुजरात सरकार ने त्रिपक्षीय समझौते में एक प्रस्ताव को मंजूरी दी थी, जिसमें क्षेत्रीय संपर्क योजना के तहत चार जल एयरोड्रमों के निर्माण के लिए केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय और भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के बीच समझौता हुआ।

India first seaplane to take off in Gujarat on October 31 from sabarmati riverfront

क्या है सी प्लेन की खासियत:

सी प्लेन प्लेन जमीन और पानी दोनों से उड़ान भर सकता है।

पानी और जमीन दोनों पर सी प्लेन को लैंड भी कराया जा सकता है।

ये भी पढ़ेंः ठाकरे की चुनौती: हिम्मत है तो गिरा कर दिखाएं सरकार, पीएम मोदी की नाकामी PoK

महज 300 मीटर के रनवे से सी प्लेन उड़ान भर सकता है।

300 मीटर की लंबाई वाले जलाशय का इस्तेमाल हवाई-पट्टी के रूप में संभव है।

सी प्लेन के लिए निर्धारित मार्ग:

गुजरात के साबरमती रिवर फ्रंट से सरदार सरोवर - स्टैच्यू ऑफ यूनिटी मार्ग तक उड़ान भरेगा। ये देश के 16 सीप्लेन मार्गों में शामिल हैं। इसके अलावा इस सेवा के शुभारंभ के बाद गुवाहाटी, अंडमान निकोबार और यमुना से उत्तराखंड में टप्पर बांध सहित विभिन्न मार्गों पर भी सी प्लेन की नियमति सेवा को शुरू करने का काम किया जाएगा।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani

Shivani

Next Story