Top

मोदी को पहला डोजः जानें कौन सी वैक्सीन लगवाई, है कितनी असरदार

इत्तेफाक से मोदी को जिस स्वास्थ्यकर्मी ने वैक्सीन लगाई वो पुदुचेरी की सिस्टर पी निवेदा हैं। एक और बात ये रही कि मोदी ने इस अवसर पर असम का पारंपरिक दुशाला अपने कंधे पर डाला हुआ था।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 1 March 2021 3:35 AM GMT

मोदी को पहला डोजः जानें कौन सी वैक्सीन लगवाई, है कितनी असरदार
X
मोदी को पहला डोजः जानें कौन सी वैक्सीन लगवाई, है कितनी असरदार (PC: social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के एम्स में कोवैक्सिन की पहली डोज आज सुबह लगवाई। प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ वैश्विक लड़ाई को मजबूती देने में जिस तेजी से हमारे डॉक्टरों और वैज्ञानिकों ने काम किया है, वह उल्लेखनीय है। जो लोग वैक्सीन लेने योग्य हैं, मैं उन सभी से वैक्सीन लगवाने की अपील करता हूं। साथ मिलकर भारत को कोरोना मुक्त बनाते हैं।

ये भी पढ़ें:स्मार्टफोन फ्री: मिल रहा शानदार ऑफर, xiaomi, Realme-Samsung जीतने का मौका

इत्तेफाक से मोदी को जिस स्वास्थ्यकर्मी ने वैक्सीन लगाई वो पुदुचेरी की सिस्टर पी निवेदा हैं। एक और बात ये रही कि मोदी ने इस अवसर पर असम का पारंपरिक दुशाला अपने कंधे पर डाला हुआ था।

आज से टीकाकरण का दूसरा चरण शुरू

देश में आज से कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा चरण शुरू हो रहा है। अब 60 साल से ज्यादा उम्र के लोग और अन्य बीमारियों से पीड़ित 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के लोग वैक्सीन ले सकेंगे। इस बार सरकारी के साथ-साथ निजी अस्पतालों में भी टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा। निजी अस्पतालों में वैक्सीन के एक डोज की कीमत केंद्र सरकार ने अधिकतम 250 रुपये तय की है। सरकारी अस्पतालों में वैक्सीन पहले की तरह फ्री रहेगी।

अब कोई भी नागरिक टीकाकरण के लिए पंजीकरण और बुकिंग को-विन पोर्टल का उपयोग करके या आरोग्य सेतु जैसे ऐप्लिकेशन के माध्यम से कर सकेंगे। लाभार्थी चिन्हित टीकाकरण केंद्रों में जाकर अपना पंजीकरण करवा सकते हैं।

ये भी पढ़ें:दिल्ली में सिस्टर पी. निवेदिता ने लगाई पीएम मोदी को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज

कौन है पात्र

ऐसे सभी नागरिक जो 60 या उससे अधिक की आयु के होंगे तथा ऐसे नागरिक जो 45 से 59 वर्ष की आयु के होंगे और निर्दिष्ट 20 बीमारियों में से किसी भी एक बीमारी से पीड़ित हैं, वे पंजीकरण के लिए पात्र हैं।

रिपोर्ट- नीलमणि लाल

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story