Top

चीन का मोहरा ये देश: वायु सेना प्रमुख ने खोली पोल, बोले- भारत जवाब देने को तैयार

एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एक कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने चीन को चेतावनी दी।

Shivani

ShivaniBy Shivani

Published on 29 Dec 2020 2:34 PM GMT

चीन का मोहरा ये देश: वायु सेना प्रमुख ने खोली पोल, बोले- भारत जवाब देने को तैयार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: भारत और चीन के बीच पिछले आठ महीनों से लद्दाख में सीमा विवाद जारी है। इस बीच दोनों देशों में सैन्य और राजनयिक स्तर पर कई बार वार्ता हुईं लेकिन चीन के अड़ियल रवैये के चलते बेनतीजा निकली। वहीं दबाव बनाने के लिए चीन भारत के पड़ोसी मुल्कों को मोहरा बनाने की रणनीति के तहत काम कर रहा है। इन्ही मुद्दों को लेकर वायु सेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने आज चीन की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए चेतावनी दी है।

वायु सेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने चीन को भटकारा

एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एक कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस दौरान उन्होंने चीन को चेतावनी दी कि अगर चीन अपना रुख नहीं बदलता और भारत से बेवजह टकराने की कोशिश करेगा तो हम जवाब देने को तैयार हैं। उन्होंने चीन को सलाह दी कि भारत ने अगर पलट कर जवाब दे दिया तो वैश्विक मोर्चे पर चीन के लिए ये अच्छा नहीं होगा।

ये भी पढ़ें- जम्मू को आतंकियों ने घेरा: बड़े हमले की साजिश, वैष्णो देवी में हाई अलर्ट

भारत-चीन तनाव पर बोले- हम जवाब देने को तैयार

वायु प्रमुख ने कहा कि लद्दाख में एलएसी पर भारी संख्या में चीन के सैनिक तैनात हैं। उनके पास रडार हैं, सतह से हवा में और सतह से सतह पर मार करने वाली दोनों तरह की मिसाइलों का जखीरा है। सीमा पर पीएलए की मौजूदगी भले ही मजबूत हैं लेकिन भारत ने सभी आवश्यक तैयारियां कर रखी है। अगर जंग की स्थिति उत्पन्न हुई है, तो भारत किसी भी दुस्साहस का मुकाबला करने के लिए सकक्षम है।

Air Force Chief RKS Bhadauria

चीन कर रहा पाकिस्तान का इस्तेमाल

उन्होंने आरोप लगाया कि चीन भारत पर दबाव बनाने की कोशिश में पाकिस्तान का इस्तेमाल मोहरे की तरह कर रहा है। इससे चीन अपना वर्चस्व बढ़ाना चाहता है। उन्होंने चीन की मंशा स्पष्ट करते हुए कहा कि चीन और पाकिस्तान दोनों के लिए अमेरिका के अफगानिस्तान से बाहर निकलने के बाद रास्ते खुल गए हैं।

ये भी पढ़ें- हमला मैग्नेटिक बमों से: खूंखार आतंकी मचा रहे मातम, हर दिन बिछ रही लाशें

वायु सेना प्रमुख ने कहा कि छोटे देश और अलगाववादियों की मदद से चीन को ड्रोन जैसे कम लागत वाली तकनीक आसानी से उपलब्ध हो रहे हैं, जिससे वह प्रतिकूल प्रभाव पैदा करने में सफल हो रहा है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani

Shivani

Next Story