×

रक्षा सौदों पर कोरोना का ग्रहण: भारत की तीनों सेना तक महामारी का असर

भारत के रक्षा मंत्रालय तक कोरोना वायरस पहुँच गया है। इसके कारण देश की थल, वायु और जल सेना के आधुनिकरण के लिए तय रक्षा सौदों पर ग्रहण लग गया है।

Shivani Awasthi
Updated on: 23 April 2020 8:05 AM GMT
रक्षा सौदों पर कोरोना का ग्रहण: भारत की तीनों सेना तक महामारी का असर
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली : कोरोना वायरस का कहर लोगों की जान, देश की अर्थ व्यवस्था को ही प्रभावित नहीं कर रहा, बल्की सुरक्षा सौदों पर भी असर डाल रहा है। मिली जानकारी के मुताबिक, भारत में तीनों सेनाओं के रक्षा सौदों पर मंत्रालय ने फिलहाल के लिए रोक लगा दी है। बताया जा रहा है कि ये फैसला कोरोना वायरस से लड़ने के लिए बजट में कटौती के मद्देनजर लिया गया है।

तीनों सेनाओं की रक्षा डील पर रोक

भारत के रक्षा मंत्रालय तक कोरोना वायरस पहुँच गया है। इसके कारण देश की थल, वायु और जल सेना के आधुनिकरण के लिए तय रक्षा सौदों पर ग्रहण लग गया है। कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुए रक्षा मंत्रालय ने पूंजी अधिग्रहण प्रक्रियाओं को रोक दिया है। ऐसे में तीनों सेनाओं के सभी रक्षा सौदे फिलहाल के लिए रोक दिए गए हैं।

ये हैं तीनो सेनाओं के रक्षा सौदे

बता दें कि तीनो सेनाओं ने आधुनिकरण के लिए जो रक्षा सौदे किये हैं, उसके कई चरण है। जिसमें इंडियन एयर फ़ोर्स ने फ्रांस से 36 राफेल लड़ाकू विमान और रूस से S-400 वायु रक्षा हथियार के लिए समझौते किये थे, इसका भुगतान भारत को करना है।

ये भी पढ़ेंः समुद्र यात्रा में भी कोरोना: पत्नी के साथ उतारा, तो हुई हालत खराब

डोकलाम विवाद के बावजूद रक्षा बजट में खास इजाफा नहीं, GDP में घटा हिस्‍सा

कोरोना वायरस के कारण रक्षा मंत्रालय का आदेश

वहीं थल सेना के लिए अमेरिका और रूस समेत कई अन्य देशों से टैंक, आर्टिलरी गन और असॉल्ट राइफल लेने के लिए समझौते हुए हैं। इसके अलावा वायु सेना ने हाल ही में अमेरिका से 24 मल्टीरोल हेलिकॉप्टरों के लिए समझौता किया था।

ये भी पढ़ेंः ‘अमेरिका पर हमला’: ट्रंप ने दी जानकारी, 47 हजार से ज्यादा की मौत

कोरोना संकट के बीच अब इन सभी समझौतों को रोक दिया गया है, यानी डील की प्रक्रिया अभी नहीं हो सकेगी, हालाँकि डील कैंसिल नहीं हुई है। बस भुगतान न कर पाने के कारण इसे स्थिति सामान्य होने के तक आगे बढ़ा दिया गया है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani Awasthi

Shivani Awasthi

Next Story