×

लद्दाख की 6 पहाड़ियां: 20 दिनों में सब पर कब्जा, फहराया भारत का तिरंगा

मात्र 20 दिन में भारत के जवानों ने एक -एक कर लद्दाख की 6 नई पहाड़ियों पर कब्जा कर लिया। ये सभी पहाड़ियां लद्दाख में काफी अहम हैं।

Shivani
Updated on: 20 Sep 2020 5:22 PM GMT
लद्दाख की 6 पहाड़ियां: 20 दिनों में सब पर कब्जा, फहराया भारत का तिरंगा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

नई दिल्ली: ये भारतीय सेना की बहादुरी और मुस्तैदी ही है कि लद्दाख में एलएसी के पास कब्जा जमाने की साजिश में लगे चीन को न केवल नाकामयाबी हासिल हुई, बल्कि जिन क्षेत्रों पर पीएलए की नजर थी, वो सब भारतीय सेना के कब्जे में आ गयी। मात्र 20 दिन में भारत के जवानों ने एक -एक कर 6 नई पहाड़ियों पर कब्जा कर लिया। ये सभी पहाड़ियां लद्दाख में काफी अहम हैं, यहां से आसपास के पूरे इलाके की निगरानी की जा सकती है।

इन छह पहाड़ियों पर भारत का कब्जा:

दरअसल, भारतीय सेना के जवानों ने जिन छह नई बड़ी पहाड़ियों पर कब्जा किया है, उनमे मागर हिल, गुरुंग हिल, रेजांग ला राचाना ला, मोखपारी और फिंगर 4 रिज लाइन शामिल हैं। ये लद्दाख की सबसे बड़ी चोटियां हैं। बताया जा रहा है कि ये पहाड़ियां दक्षिण से उत्तरी किनारे तक फैली हुई हैं।

Indian Army Occupied 6 new hill in LAC ladakh Chinese PLA lost

ये भी पढ़ेंः युद्ध हुआ तो दुनिया के नक्शे से गायब हो जाएगा चीन, भारत ने इस बार की ऐसी तैयारी

बता दें कि ब्लैक टॉप और हेलमेट टॉप पहाड़ियां एलएसी के चीनी हिस्से में हैं, जबकि भारतीय पक्ष द्वारा कब्जा की गई चोटियां भारतीय क्षेत्र में एलएसी पर हैं।

29 अगस्त को चीन ने की थी घुसपैठ की कोशिश

गौरतलब है कि चीन ने इन चोटियों को कब्जाने के लिए साजिश रची और 29 अगस्त को घुसपैठ की कोशिश की, हालाँकि भारतीय सेना ने उन्हें घुसपैठ से रोका। इस दौरान कई सालों बाद लद्दाख में फायरिंग की नौबत आ गयी थी। उसके बाद से तनाव बढ़ गया।

Indian Army Occupied 6 new hill in LAC ladakh Chinese PLA lost

ये भी पढ़ेंः सीमा पर 3000 सैनिकः पाकिस्तान का करेंगे मुकाबला, भारत से पंगा पड़ेगा भारी

भारत ने इन चोटियों पर कब्जा कर लिया, जिसके बाद बौखलाई चीनी सेना की ओर से रेसेन ला और रेजांग ला ऊंचाइयों के पास 3,000 अतिरिक्त सैनिकों को तैनाती की गई है। इसमें चीन की पैदल सेना और बख्तरबंद सैनिक शामिल हैं।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shivani

Shivani

Next Story