पाकिस्तान का खतरनाक प्लान! इसके साथ मिलकर भारत पर बड़े हमले की योजना

5 अगस्त, 2019 को केंद्र की मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 को कमजोर कर दिया था। इसके बाद से पाकिस्तान काफी तिलमिलाया हुआ है और वह लगातार भारत के लिए दिक्कतें पैदा कर रहा है।

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाये जाने से पाकिस्तान अभी ताकि बौखलाया हुआ है। ऐसे में वह लगातार भारत को परेशान करने की कोशिश कर रहा है। इसी क्रम में पाकिस्तानी सेना लगातार भारतीय सीमा में दाखिल होने की नाकाम कोशिश कर रही है। वहीं, इस नाकाम कोशिश के बाद अब पाकिस्तान की सेना ने ISI से हाथ मिला लिया है।

यह भी पढ़ें: कमलेश मर्डर केस: अब सोशल मीडिया पर कुछ इस तरह मचा हड़कंप

वह अब ISI के साथ मिलकर पाकिस्तानी सेना अब नए सिरे से भारतीय इलाके के नक्शे बनाने का काम कर रही है। उन गाइडों को इन नक्शों को बनाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है, जो कि सीमा पर आतंकियों को हमेशा घुसपैठ के लिए मदद करते हैं। आतंकियों को ये गाइड न सिर्फ़ भारतीय सेना की नजरों से बचाकर सीमा पार कराते हैं, बल्कि उनको सुरक्षित भारतीय इलाकों में पहुंचाने का भी काम करते हैं।

ISI का आतंकियों को नया फरमान

ISI ने सितंबर के महीने में आतंकियों को नया फ़रमान जारी किया। इस नए फरमान के तहत आतंकियों को सर्दियों में भारी बर्फबारी के बीच भारत में प्लांट किया जाएगा, जिसमें गाइड उनकी मदद करेंगे। सूत्रों ने बताया कि नक्शा बनाने के साथ ही गाइडों को उस इलाके में भारतीय सेना के कैंप और उस इलाके में मौजूद नालों की जीपीएस लोकेशन भी तैयार करने को कहा गया है।

यह भी पढ़ें: ये जान लें कारोबारी: अब 1 तारीख से लागू हो रहा ऐसा नियम, सभी को करना होगा ज़रूरी

जानकारी के अनुसार, जिन गाइडों को चुना गया है, वह सभी अलग-अलग आतंकी तंजीमो से ताल्लुक रखते हैं। इसके अलावा ये गाइड ISI को भारतीय इलाकों में रह रहे उनके ओवर ग्राउंड वर्कर की भी जानकारी भी देते हैं। साथ ही, ये खबर भी सामने आई है कि एलओसी के पास के गांव में जो लोग आतंकियों को पनाह देंगे उनके बारे में आतंकियों को बता दिया गया है।

यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र चुनाव: ढह गया कांग्रेस-राकांपा का किला

बता दें, 5 अगस्त, 2019 को केंद्र की मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 को कमजोर कर दिया था। इसके बाद से पाकिस्तान काफी तिलमिलाया हुआ है और वह लगातार भारत के लिए दिक्कतें पैदा कर रहा है। हालांकि, उसकी सारी हरकतें नाकाम साबित हो रही हैं। यही नहीं, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान भी भारत को परमाणु और आतंकी हमले की लगातार धमकी दे रहे हैं।