×

जम्मू-कश्मीर खुलासा : तो ऐसी चाल चल रहा था पाक, निशाने पर थे ये लोग

जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमलों के चलते सुरक्षाबलों की तैनाती बढ़ा दी गई है। अमरनाथ धाम की यात्रा 1 जुलाई से शुरू हुई थी, जोकि 15 अगस्त तक चलनी थी, लेकिन सरकार ने यात्रा को रोक दिया है और सभी यात्रियों को वापस आने का आदेश दिया।

Vidushi Mishra

Vidushi MishraBy Vidushi Mishra

Published on 3 Aug 2019 1:59 PM GMT

जम्मू-कश्मीर खुलासा : तो ऐसी चाल चल रहा था पाक, निशाने पर थे ये लोग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमलों के चलते सुरक्षाबलों की तैनाती बढ़ा दी गई है। अमरनाथ धाम की यात्रा 1 जुलाई से शुरू हुई थी, जोकि 15 अगस्त तक चलनी थी, लेकिन सरकार ने यात्रा को रोक दिया है और सभी यात्रियों को वापस आने का आदेश दिया। सरकार ने कहा कि ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि यात्रा के दौरान आतंकी हमले होने की आशंका थी।

यह भी देखें... KashmirUnderThreat: हाई-अलर्ट के बीच 3 आतंकियों का सफाया

आपको बता दें, अमरनाथ यात्रा के रास्ते में एक सुरंग में कई खतरनाक हथियार, राईफलें और स्नाईपर मिले थे। जिसके बाद से सरकार ने हाई-अलर्ट का ऐलान कर दिया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, पाकिस्तान की ये प्लानिंग थी कि वह घाटी की शेर, बारूद, शक्ति और कईयां की पोस्ट पर मौजूद भारतीय जवानों पर अपनी बैट यानी बॉर्डर एक्शन टीम से हमला कराए।

यह भी देखें... जम्मू-कश्मीर में होने जा रहा ऐसा, जानकर चौंक जाएंगे आप

ताजा मीडिया रिपोर्ट्स में यह भी कहा जा रहा है कि पाक अधिकृत कश्मीर यानी की पीओके में जैश-ए-मोहम्मद के तीन ऑपरेटिव्स हैं। इन्हें पीओके पर देखा गया है।

मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक, इब्राहिम अजहर के साथ 15 प्रशिक्षित आतंकी भी हैं। वे इस इलाके में पाकिस्तान की स्पेशल सर्विस ग्रुप को ऑपरेशनल मदद करने के लिए मौजूद हैं। पीओके के नेजापीर सेक्टर में मौजूद लॉन्च पैड पर सभी मौजूद हैं।

यह भी देखें... J&K में टेंशन टाइट! तो 15 आंतकियों के साथ चल रहा था ये प्लान, अभी भी हाई-अलर्ट

आपको बता दें, जम्मू-कश्मीर में शनिवार को सुरक्षाबलों ने तीन आंतकी मार गिराए। शोपियां और बारामूला में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकवादी मारे गए।

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story