J&K से अनुच्‍छेद 370 हटने के एक साल, पीयूष गोयल ने PM मोदी पर कही ये बड़ी बात

केंद्र की मोदी सरकार ने बीते साल 2019 में आज ही के दिन यानी 5 अगस्त को जम्‍मू और कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 (Article 370) खत्म कर दिया था। इस अनच्छेद के हटाए जाने की पहली वर्षगांठ है।

Piyush Goyal

Piyush Goyal

नई दिल्‍ली: केंद्र की मोदी सरकार ने बीते साल 2019 में आज ही के दिन यानी 5 अगस्त को जम्‍मू और कश्‍मीर से अनुच्‍छेद 370 (Article 370) खत्म कर दिया था। इस अनच्छेद के हटाए जाने की पहली वर्षगांठ है। इस मौके पर केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि पीएम मोदी ने दशकों का अंधकार नष्‍ट किया।

पीयूष गोयल ने कहा कि सामान्य व्यक्ति के लिए शांति और समृद्धि का पालन करना। जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विकास और अवसरों को लाने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी जी ने दशकों का अंधकार नष्‍ट किया।

पीयूष गोयल ने बुधवार को ट्वीट कर कहा कि अनुच्छेद 370 को निरस्त करते हुए गृह मंत्री अमित शाह जी ने राष्ट्र और संघ शासित प्रदेशों के लोगों को अपना भविष्य बनाने के लिए एकजुट किया।

यह भी पढ़ें…वह मोदी वाह: आज सपना हुआ सच, सौ सालों के विवाद का निकला तोड़

तो वहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि दशकों पुराने संकल्प ‘एक राष्ट्र, एक विधान, एक निशान’ की पूर्ति वाले ऐतिहासिक दिन के एक वर्ष पूर्ण होने पर समस्त देशवासियों को शुभकामनाएं। जम्मू कश्मीर व लद्दाख क्षेत्र से धारा 370 व 35A हटाए जाने के कारण आज लोग मुख्यधारा से जुड़कर विकास और प्रगति के पथ पर आगे बढ़ रहे हैं।

यह भी पढ़ें…मिलेगा मुनाफा ही मुनाफा: FD पर यहां होगा सबसे ज्यादा फायदा, आई नई ब्याज दरें

गौरतलब है कि 5 अगस्त, 2019 को अनुच्छेद 370 को समाप्त कर दिया गया था। अनुच्छेद 370 की समाप्ति के बाद जम्मू और कश्मीर को मिला विशेष दर्जा खत्म हो गया। साथ ही इसे दो केंद्र शासित प्रदेशों-जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विभाजित कर दिया।

यह भी पढ़ें…शिवराज पर बड़ी खबर: आ गई कोरोना की तीसरी रिपोर्ट, डॉक्टर ने बताई ये बात

बीते साल 5 अगस्त को केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन बिल संसद में लाकर राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांट दिया था। यह बिल 31 अक्टूबर 2019 लागू हो गया। केंद्र सरकार के 106 कानून भी इन दोनों केंद्र शासित प्रदेशों में लागू हो गए, जबकि राज्य के पुराने 153 कानून खत्म हो गए।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App