×

जम्मू-कश्मीर से 370 हटा, पत्रकारों से लेकर नेताओं तक का ट्विटर पर रहा ये रिएक्शन

जम्मू-कश्मीर को लेकर चल रही तमाम कयासों पर सोमवार को विराम लग गया। केंद्र की मोदी सरकार ने ऐतिहासिक और अभूतपूर्व फैसला लेते हुए जम्मू-कश्मीर को विशेष अधिकार देने वाले अनुच्छेद 370 को खत्म कर दिया है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 5 Aug 2019 4:17 PM GMT

जम्मू-कश्मीर से 370 हटा, पत्रकारों से लेकर नेताओं तक का ट्विटर पर रहा ये रिएक्शन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर को लेकर चल रही तमाम कयासों पर सोमवार को विराम लग गया। केंद्र की मोदी सरकार ने ऐतिहासिक और अभूतपूर्व फैसला लेते हुए जम्मू-कश्मीर को विशेष अधिकार देने वाले अनुच्छेद 370 को खत्म कर दिया है।

कांग्रेस समेत कई राजनीतिक पार्टियों ने मोदी सरकार के इस फैसले की आलोचना की, तो वहीं केजरीवाल जैसे धुर विरोधी मोदी सरकार के समर्थन में खड़े दिखें। आइए जानते हैं अनुच्छेद 370 पर किसने क्या कहा।

यह भी पढ़ें…अनुच्छेद 370 पर अमित शाह बोले, जम्मू-कश्मीर को बनाएंगे सबसे विकसित राज्य

आरएसएस ने कहा कि सरकार के साहसपूर्ण कदम का हार्दिक स्वागत करते हैं।

महबूबा मुफ्ती ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी को मिले भारी जनादेश ने हमें उम्मीद दी थी कि वे एक राजनेता की तरह वह भी वाजपेयी जी द्वारा लिए गए मार्ग को आगे बढ़ाएंगे और जम्मू-कश्मीर के लोगों तक पहुंचेंगे, लेकिन उन्होंने विश्वासघात किया है।

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि ऐतिहासिक पहल के लिए पीएम और गृह मंत्री को बधाई।

यह भी पढ़ें…धारा 370 और पीएम मोदी का है पुराना कनेक्शन, दंग रह जाएंगे आप

बीजेपी की वरिष्ठ नेता सुषमा स्वराज ने कहा, श्रेष्ठ भारत-एक भारत का अभिनंदन।

वरिष्ठ पत्रकार योगेश मिश्र ने कहा कि चौकीदार सचमुच चौकीदार निकला उसने देश की अखंडता की रक्षा की।

यह भी पढ़ें…क्या है आर्टिकल 35ए और 370, जानिए इसके बार में सब कुछ

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम सरकार के फैसले का समर्थन करते हैं।

योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा कि अखंड भारत की जय हो।

यह भी पढ़ें…कश्मीर को बार-बार कसौटी पर कसे जाने का अंत होने वाला है

पत्रकार पुण्य प्रसून वाजपेयी ने कहा कि साहसिक और ऐतिहासिक निर्णय...

पत्रकार उर्मिलेश ने कहा, अनुच्छेद 370 खत्म करने का गैर जरूरी कदम।

समाजवादी पार्टी ने कहा कि लोकतंत्र में छल, कपट, बल का उपयोग लोकतांत्रिक नियमों का उल्लंघन है।

यह भी पढ़ें…Bye Bye 370 : घाटी में नौकरी से छोकरी तक होंगे ये 10 बदलाव

अभिनेत्री दीया मिर्जा ने कहा, लद्दाख और जम्मू-कश्मीर के लोगों के लिए शांति, समृद्धि और सतत विकास। पीएमओ और गृहमंत्री को शुभकामनाएं।

वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा ने कहा कि 70 साल पहले लमहों ने खता की थी और सदियों ने सजा पाई।

आज तक की पत्रकार और एंकर अंजना ओम कश्यप ने कहा कि पाकिस्तान भी सोचता होगा बाप, बाप होता है !

यह भी पढ़ें…अनुच्छेद 370 की विदाई, कश्मीर में बराबरी की जम्हूरियत का नया युग

पत्रकार रुबिका लियाकत ने कहा कि 5 अगस्त अलगाव धवस्त!

अजीत अंजुम ने कहा कि आखिरकार नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी ने वो ऐतिहासिक फैसला करके दिखा दिया जिसका वादा बीजेपी जनसंघ के जमाने से करती रही है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story