हाई अलर्ट: आतंकी योजना बनाने में जुटा पाकिस्तान, हरकतों से नहीं आ रहा बाज

पाकिस्तान इस मामले में बिलकुल बौखलाया हुआ है। ऐसे में वह तमाम देशों से मदद मांग रहा है लेकिन अमेरिका और रूस जैसे बड़े देशों ने अपना रुख साफ कर दिया है। इससे पाकिस्तान को तगड़ा झटका लगा है।

हाई अलर्ट: आतंकी योजना बनाने में जुटा पाकिस्तान, हरकतों से नहीं आ रहा बाज

हाई अलर्ट: आतंकी योजना बनाने में जुटा पाकिस्तान, हरकतों से नहीं आ रहा बाज

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 को कमजोर कर दिया गया है। पाकिस्तान भारत सरकार के इस फैसले से बौखलाया हुआ है। ऐसे में वह आतंकी हमले की योजना बना रहा है, जिसकी वजह से वहां सभी आतंकी संगठन एक्टिव हो गए हैं। पाकिस्तान की इस हरकत के बाद भारत सतर्क हो गया है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, भारतीय सेनाओं और सुरक्षा बलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

यह भी पढ़ें: केन्या के सेक्स टूरिज्म में फंसती एशियाई लड़कियां

हालांकि, जम्मू-कश्मीर में आज से इंटरनेट और टेलीफोन सेवाएं चालू कर दी गयी हैं। वहीं, इस मामले में जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव बी वी आर सुब्रमण्यम का कहना है कि शुक्रवार को राज्य सरकार के कार्यालयों में सामान्य ढंग से कामकाज हुआ और कई कार्यालयों में तो उपस्थिति ‘बेहद अच्छी’ रही।

पांच अगस्त को लगाई गयी थीं पाबंदियां

उन्होंने कहा कि पांच अगस्त को जब पाबंदियां लगायी गयीं, तब से न किसी की जान गयी और न कोई घायल हुआ। पांच अगस्त को जम्मू कश्मीर के विशेष राज्य के दर्जे को निरस्त कर दिया गया था और उसे दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांट दिया गया था।

यह भी पढ़ें: World News : सरकारी सुविधा लेने वालों को नहीं मिलेगी अमेरिकी नागरिकता

उन्होंने ये भी कहा कि ‘अगले कुछ दिनों में पाबंदियों में व्यवस्थित तरीके से ढील दी जाएगी। स्थिति के मद्देनजर और शांति बनाए रखने में लोगों के सहयोग को ध्यान में रखकर कदम उठाये जाएंगे। विद्यालयों को इस सप्ताहांत के बाद क्षेत्रवार खोला जाएगा ताकि बच्चों की पढ़ाई प्रभावित न हो।’

जम्मू कश्मीर के मुख्य सचिव ने दिया बयान

जम्मू कश्मीर के मुख्य सचिव ने कहा,‘आतंकवादी संगठनों, कट्टरपंथी समूहों और पाकिस्तान की स्थिति बिगाड़ने की लगातार कोशिश के बावजूद हमने किसी की भी जान नहीं जाने दी।’

यह भी पढ़ें: बीजेपी मुख्यालय में विधानसभा उपचुनाव और संगठनात्मक चुनाव को लेकर बैठक आज

मुख्य सचिव ने कहा, ‘उम्मीद है कि अगले कुछ दिनों में जम्मू कश्मीर में पाबंदियों में जैसे जैसे ढील दी जाएगी, जनजीवन पूरी तरह सामान्य हो जाएगा। सड़कों पर यह नजर भी आ रहा है क्योंकि सड़कों पर यातायात बिल्कुल नियमित हो चला है और हमें आने वाले दिनों में इसके बढ़ने की उम्मीद है।’

देखने वाली है पाकिस्तान की बौखलाहट

बता दें, पाकिस्तान इस मामले में बिलकुल बौखलाया हुआ है। ऐसे में वह तमाम देशों से मदद मांग रहा है लेकिन अमेरिका और रूस जैसे बड़े देशों ने अपना रुख साफ कर दिया है। इससे पाकिस्तान को तगड़ा झटका लगा है। हालांकि, यूएन की सुरक्षा परिषद में चीन ने पाकिस्तान दिया था। मगर यहां भी दोनों को मुंह की खानी पड़ी।