कश्मीर को अमेरिका ने बताया द्विपक्षीय मसला, मध्यस्थता से अब ट्रंप का इंकार

मालूम हो, पाकिस्तान के पीएम इमरान खान और डोनाल्ड ट्रंप ने कुछ समय पहले मुलाक़ात की थी। इस मुलाक़ात का हवाला देते हुए ट्रंप ने कहा कि दोनों देशों के बीच जम्मू-कश्मीर मुद्दे को लेकर बात हुई।

कश्मीर को अमेरिका ने बताया द्विपक्षीय मसला, मध्यस्थता से अब ट्रंप का इंकार

कश्मीर को अमेरिका ने बताया द्विपक्षीय मसला, मध्यस्थता से अब ट्रंप का इंकार

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर और आर्टिकल 370 को लेकर अमेरिका ने अपना स्टैंड क्लियर कर दिया है। कश्मीर मुद्दे को लेकर अमेरिका ने साफ कह दिया है कि यह पूरी तरीके से भारत-पाकिस्तान का द्विपक्षीय मामला है। इसलिए अमेरिका इसमें किसी तरह की कोई दखल नहीं देगा।

यह भी पढ़ें: भारतीय सेना ने दिलकुशा गार्डन में लगाया शस्त्र मेला

इसके साथ, अमेरिका ने अमेरिका ने मध्यस्थता करने से साफ इंकार कर दिया है। ये खबर भारतीय राजदूत हर्षवर्धन सिंगला के हवाले से आई है। बता दें, हाल ही में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ‘कश्मीर पर मध्यस्थता’ का बयान दिया था, जिसकी भारत ने कड़ी निंदा की थी।

पहले मदद को तैयार था अमेरिका

ट्रंप ने कहा था कि जम्मू-कश्मीर मामले का हल निकालने के लिए अगर भारत और पाकिस्तान किसी की मदद लेना चाहते हैं तो वो इसके लिए तैयार हैं। उन्होंने ये भी कहा कि यह पूरी तरह से भारत और पाकिस्तान पर निर्भर करता है कि वह कश्मीर मामले का हल निकालने के लिए किसी की मदद लेना चाहते हैं या नहीं।

यह भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर पर बौखलाया पाकिस्तान, लद्दाख के पास तैनात किए JF-17 फाइटर प्लेन

मालूम हो, पाकिस्तान के पीएम इमरान खान और डोनाल्ड ट्रंप ने कुछ समय पहले मुलाक़ात की थी। इस मुलाक़ात का हवाला देते हुए ट्रंप ने कहा कि दोनों देशों के बीच जम्मू-कश्मीर मुद्दे को लेकर बात हुई। जहां पाकिस्तान ने ट्रंप की इस पेशकश का स्वागत किया था, वहीं भारत ने इसे सिरे से नकार दिया था।