कश्मीर में फिर बंद इंटरनेट सेवा, आर्टिकल 370 पर अफवाहों का बाजार गर्म

आर्टिकल 370 को जम्मू-कश्मीर से हटाए जाने के बाद कश्मीर में बंद की गई मोबाइल और इंटरनेट सेवाओं को रविवार को पांच जिलों में शुरु किया गया था।

आर्टिकल 370 को जम्मू-कश्मीर से हटाए जाने के बाद कश्मीर में बंद की गई मोबाइल और इंटरनेट सेवाओं को रविवार को पांच जिलों में शुरु किया गया था। लेकिन अफवाहों के फैलने की वजह से एक बार फिर शुरु की गई सुविधा को बंद कर दिया गया। शनिवार को ही माहौल सामान्य करने के लिए 2जी मोबाइल सेवा को शुरु किया गया था। लेकिन अफवाहों को रोकने और हालात सामान्य रखने के लिए मोबाइल सेवाओं को बंद कर दिया गया।

यह भी पढ़ें: आर्टिकल 370 पर केंद्रीय मंत्री महेंद्रनाथ पांडेय का बड़ा बयान

मामले में पुलिस अधिकारी का कहना है कि अधिकारियों ने सभी कम्पनियों को इंटरनेट सेवा बंद करने के निर्देश दिए गए थे। 4 अगस्त को आर्टिकल 370 हटने से पहले ये सेवाएं बंद थी और कश्मीर में 144 लागू किया गया था। अब ये सेवाएं शनिवार को पांच जिलों में 2जी मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को शुरु किया गया था। सेवाएं शुरु करने के बाद पुलिस महानिरीक्षक ने लोगों को चेतावनी दी कि अगर किसी ने सोशल मीडिया पर अफवाहें फैलाईं तो उस पर सख्त कार्रवाई होगी।

यह भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर: आज से बजेगी फोन की घंटी, 2G इंटरनेट सेवा भी चालू

बता दें कि कश्मीर में 100 में से 17 टेलीफोन एक्सचेंज में लैंडलाइन सेवाओं को बहाल किया गया है। इससे 50 हजार से भी ज्यादी लैंडलाइन जुड़े हुए हैं। अधिकारियों ने बताया कि अन्य 20 टेलीफोन एक्सचेंज भी जल्द ही शुरु किए जाएंगे। घाटी में 2 जी मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को शुरु किया गया है। छावनी, सिविल लाइन्स और श्रीनगर के एयरपोर्ट के पास ये एक्सचेंज हैं। बताया जा रहा है कि सेवा के शुरु होने के बाद मध्य कश्मीर यानी सोनमर्ग, बडगाम और मनिगम में लैंडलाइन शुरु हो गए हैं।