चारों तरफ से घिरे आतंकी: सेना की बंदूक का बने निशाना, मुठभेड़ जारी

जम्मू कश्मीर के बडगाम जिले के आरिबाग मचहामा इलाके में आतंकियों के छिपे होने का इनपुट मिलने के बाद सुरक्षाबल एक्टिव हो गए और पूरे इलाके की घेर लिया।

Published by Shivani Awasthi Published: October 27, 2020 | 10:51 pm

श्रीनगर: भारतीय सेना आतंक के खिलाफ रुकने वाली नहीं है। हर दिन घाटी में आतंकियों को ढूंढ ढूंढ कर निशाना बना रही है। इसी कड़ी में मंगलवार देर शाम सुरक्षाबलों की आतंकियों के साथ मुठभेड़ शुरू हो गयी। ये मुठभेड़ मध्य कश्मीर के बडगाम जिले के आरिबाग मचहामा इलाके में हो रही है। बताया जा रहा है कि इलाके में दो से तीन आतंकी छिपे हुए हैं। सुरक्षाबलों ने उनकी गिरफ्तारी को लेकर इलाके को घेर रखा है।

बडगाम में घिरे आतंकी, सुरक्षाबलों से मुठभेड़ जारी

जम्मू कश्मीर के बडगाम जिले के आरिबाग मचहामा इलाके में आतंकियों के छिपे होने का इनपुट मिलने के बाद स्थानीय पुलिस, सीआरपीएफ बटालियन एक्टिव हो गयी और पूरे इलाके की घेराबंदी कर सर्च ऑपरेशन शुरू किया। सुरक्षाबलों की कार्रवाई देख छिपे बैठे आतंकी घबरा गए और फायरिंग शुरू कर दी। सेना भी आतंकियों की अंधाधुंध गोलियां का जवाब दे रही है। दोनों तरफ से मुठभेड़ जारी है। बताया जा रहा है कि इलाके में दो से तीन आतंकी मौजूद हैं। सुरक्षाबलों ने इलाके के सभी प्रवेश व निकास द्वार को सील कर दिया गया है ताकि आतंकी अंधेरे का फायदा उठाकर भाग न सकें।

अवंतीपोरा में सुरक्षाबलों और आंतकियों के बीच मुठभेड़

बता दें कि बीते दिन पुलवामा जिले के अवंतीपोरा में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हो गई थी, जिसमें एक आंतकी मारा गया तो वहीं दूसरे में सेना के डर से आत्मसम्पर्ण कर दिया। बता दें कि सुरक्षाबल लगातार आतंकियों के खात्मे को लेकर अभियान चला रहे हैं, जिसके तहत अब तक कई क्षेत्र आतंकी मुक्त कराये जा चुके हैं।

ये भी पढ़ेंः अमेरिका से युद्ध! US-भारत डील पर चीन का बड़ा बयान, साफ़ दिखी बौखलाहट

डर के मारे दूसरे आतंकी ने किया सरेंडर

दरअसल, सेना के लिए बड़ी कामयाबी तब हुई, जब मुठभेड़ में मारे गए आतंकी का साथी भी खौफ में आ गया और घबराकर खुद ही सेना के पास जाकर गिरफ्तारी दे दी। सरेंडर हुए आतंकी की पहचान पुलवामा के गुलशनपुरा में रहने वाले एक स्थानीय के तौर पर हुई जो बीते 25 सितंबर से फरार था। सुरक्षाबल उसकी तलाश में थे। सरेंडर के दौरान सुरक्षाबलों ने उनेक पास से एक एके-47 राइफल भी बरामद की।

ये भी पढ़ेंः फ्रांस में मस्जिदों को किया गया बंद, भड़के मुस्लिम देश, दे डाली ये बड़ी चेतावनी

इस बारे में कश्मीर आईजी विजय कुमार ने बताया कि मुठभेड़ शुरू होने से पहले दोनों आतंकियों को समर्पण करने का मौका दिया गया था। लेकिन न मानने के बाद ही उनके खिलाफ कार्रवाई करनी पड़ी। जिसमे एक की मौत हो गयी और उसे कोरोना प्रोटोकॉल के तहत दफनाया गया।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App