JNU हिंसा: आईशी घोष से लगातार 40 मिनट तक हुआ सवाल-जवाब

राजधानी के दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में हुई हिंसा मामले में क्राइम ब्रांच की एसआईटी ने सोमवार को जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष आईशी घोष से पूछताछ की।

JNU हिंसा: आईशी घोष से लगातार 40 मिनट तक हुआ सवाल-जवाब

JNU हिंसा: आईशी घोष से लगातार 40 मिनट तक हुआ सवाल-जवाब

नई दिल्ली: राजधानी के दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) में हुई हिंसा मामले में क्राइम ब्रांच की एसआईटी ने सोमवार को जेएनयू छात्रसंघ अध्यक्ष आईशी घोष से पूछताछ की। एसआईटी ने आईशी घोष से वीडियो दिखाकर कई सवाल किए। महिला पुलिस अधिकारियों ने करीब 40 मिनट तक आईशी से पूछताछ की। आईशी घोष के खिलाफ तीन केस दर्ज हैं।

पूछे गए 100 से ज्यादा प्रश्न

इसके अलावा एसआईटी कार्यालय में वामपंथी छात्र संगठनों से जुड़े वाष्कर विजय और पंकज मिश्रा से भी पूछताछ की गई। क्राइम ब्रांच के अधिकारियों ने दोनों से करीब 1 घंटे तक पूछताछ की और इस दौरान 100 से ज्यादा प्रश्न पूछे गए।

यह भी पढ़ें: तगड़ा झटका! अब इस बैंक से नहीं निकाल सकेंगे 35000 से अधिक, RBI ने लगाई रोक

अन्य छात्रों से जल्द ही होगी पूछताछ

जानकारी के मुताबकि, अन्य आरोपी छात्रों से भी जल्द ही पूछताछ की जाएगी। तीनों से हुई पूछताछ को लेकर पुलिस अधिकारी ने बताया कि, तीनों से जेएनयू परिसर में हुई घटना के संबंध में विस्तृत पूछताछ की गई और ये जानने की कोशिश की गई कि घटना के वक्त वे लोग कहां थे, उन लोगों ने क्या देखा और तीनों हिंसा में शामिल थे या नहीं।

दोबारा की जाएगी पूछताछ

अपराध शाखा से जुड़े सूत्रों ने बताया कि, इनसे दोबारा पूछताछ की जाएगी। पंकज मिश्रा ने इस पूछताछ से पहले ही पुलिस के दावे को खारिज कर दिया। वहीं यूनिवर्सिटी के तीन प्रोफेसर की अर्जी पर दिल्ली हाईकोर्ट ने गूगल, फेसबुक और व्हाट्सएप को नोटिस जारी किया है। कोर्ट ने नोटिस जारी करते हुए उनसे हिंसा के वीडियो और अन्य सबूतों को सुरक्षित रखने को कहा है।

पूछताछ में शामिल होने के लिए भेजा गया नोटिस

उधर, क्राइम ब्रांच ने शनिवार को वामपंथी छात्र संगठनों से जुड़े 7 छात्रों और दक्षिणपंथी छात्र संगठनों से जुड़े 2 छात्रों एक नोटिस भेजा था, जिसमें उन्हें पूछताछ में शामिल होने के लिए कहा गया था।

यह भी पढ़ें: कैफी को गूगल का सलाम, आज अपना ‘डूडल’ किया शायर के नाम

नौ संदिग्धों की जारी की गई फोटो, ये नाम शामिल

आपको बता दें कि जेएनयू हिंसा मामले में शुक्रवार को पुलिस ने नौ संदिग्धों की तस्वीर जारी की थी। जिसमें जेएनयू छात्र संघ की अध्यक्ष आईशी घोष का नाम भी शामिल था। उनके अलावा पूर्व छात्र चुनचुन कुमार, स्कूल ऑफ सोशल साइंसेज के छात्र पंकज मिश्रा, भारद्वाज, स्कूल ऑफ लैग्वेज, संस्कृत के शोध छात्र योगेंद्र, लिटरेचर ऐंड कल्चरल स्टडीज के छात्र प्रिया रंजन, स्कूल ऑफ सोशल साइंस-सेंटर ऑफ हिस्टोरिकल स्टडीज के डोलन समांता, स्कूल ऑफ सोशल साइंसेज के सुचेता तालुकदार, स्टडीज ऑफ कोरियन लैंग्वेज के विकास पटेल, और एमए के छात्र वास्कर विजय का नाम शामिल है।

नकाबपोश लड़की की हुई पहचान

इसके अलावा पुलिस ने जेएनयू हमले में शामिल नकाबपोश लड़की की पहचान कर ली है। पुलिस के मुताबिक, लड़की की पहचान कोमल शर्मा के रुप में की गई है। नकाबपोश लड़की की फोटो काफी वायरल हुई थी, जिसमें उसने अपने मुंह को ढ़का हुआ है और चेक शर्ट पहने हुए है। उसके हाथ में ठंडा भी देखा गया। पुलिस के मुताबिक, कोमल शर्मा दिल्ली यूनिवर्सिटी के दौलत राम कॉलेज की छात्रा है। कोमल शर्मा को भी जांच में शामिल होने के लिए नोटिस जारी किया गया है। पुलिस ने बताया कि शनिवार रात से ही कोमल शर्मा का फोन बंद आ रहा है।

यह भी पढ़ें: CAA पर BJP को झटका: मुस्लिम नेता छोड़ रहे साथ, ताबड़तोड़ इस्तीफे से हड़कंप