कश्मीर में Article 370 पर सियासत, उठी बहाली की मांग, कांग्रेस से भिड़ गए नड्डा

भाजपा अध्यक्ष ने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 की बहाली की वकालत करने पर कांग्रेस पर तीखा हमला बोला। नड्डा ने अपनी ट्वीट में कहा कि बिहार चुनाव से पहले एक बार फिर कांग्रेस भारत को बांटो के गंदे हथकंडे पर वापस आ गई है।

JP Nadda slams Congress over demanding restoring article 370 in jammu kashmir

कांग्रेस से भिड़ गए नड्डा (photo Social media)

अंशुमान तिवारी

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 को लेकर भाजपा और कांग्रेस में सियासत गरमा गई है। कांग्रेस की ओर से अनुच्छेद 370 की बहाली की मांग पर भाजपा ने कांग्रेस पर तीखा हमला किया है। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा कि कांग्रेस के पास सुशासन के एजेंडे पर बात करने के लिए कुछ नहीं है।

उन्होंने कहा कि बिहार चुनाव से पहले कांग्रेस देश को बांटने के गंदे हथकंडे पर फिर वापस लौट आई है। दूसरी ओर कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने अनुच्छेद 370 को समाप्त किए जाने के फैसले को मनमाना और असंवैधानिक बताते हुए इसे रद्द करने की मांग की है। इस मुद्दे को लेकर कश्मीर में बने पीपुल्स अलायंस में भी कांग्रेस शामिल है।

370 की बहाली की मांग पर तीखा हमला

भाजपा अध्यक्ष ने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 की बहाली की वकालत करने पर कांग्रेस पर तीखा हमला बोला। नड्डा ने अपनी ट्वीट में कहा कि बिहार चुनाव से पहले एक बार फिर कांग्रेस भारत को बांटो के गंदे हथकंडे पर वापस आ गई है।

ये भी पढ़ेंः BJP मालामाल: मिला 365 करोड़ का दान, ये कम्पनी बनी पार्टी की मसीहा..

उन्होंने कहा कि एक और कांग्रेस नेता राहुल गांधी पाकिस्तान की प्रशंसा करने में जुटे हैं तो दूसरी ओर पी चिदंबरम कहते हैं कि कांग्रेस अनुच्छेद 370 की वापसी चाहती है। कांग्रेस पार्टी का यह रवैया शर्मनाक है।

चिदंबरम ने फैसले को असंवैधानिक बताया

नड्डा की यह प्रतिक्रिया कांग्रेस नेता पी चिदंबरम के उस बयान पर आई है जिसमें उन्होंने कहा था कि पार्टी जम्मू कश्मीर के विशेष दर्जे और वहां के लोगों के अधिकारों की बहाली की मांग के साथ खड़ी है।

चिदंबरम का कहना था कि मोदी सरकार ने पिछले साल 5 अगस्त को मनमाना और असंवैधानिक फैसला लेकर अनुच्छेद 370 को रद्द कर दिया। उन्होंने मांग की कि इस फैसले को वापस लिया जाना चाहिए।

घाटी में कई दलों ने मिलकर बनाया मोर्चा

जम्मू-कश्मीर में भी इन दिनों में अनुच्छेद 370 की बहाली की मांग को लेकर सियासत गरमाई हुई है। पीडीपी की नेता और पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की रिहाई के बाद वहां राजनीतिक दलों की सक्रियता बढ़ गई है। हाल में नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष और जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्ला के आवास पर हुई बैठक में कई सियासी दलों ने मिलकर अनुच्छेद 370 की बहाली की मांग को लेकर पीपुल्स अलायंस नाम से मोर्चा बनाने का एलान किया है।

ये भी पढ़ेंः पाक पर बड़ा हमलाः आतंकवाद का समर्थन करना पड़ेगा भारी, भारत ने दिया जवाब

 

इस मोर्चे में नेशनल कांफ्रेंस और पीडीपी के अलावा कांग्रेस भी शामिल है। फारूक अब्दुल्ला का कहना है कि अलायंस घाटी में अनुच्छेद 370 की वापसी के लिए संघर्ष करेगा।

बहुमत के कारण भाजपा ले रही बड़े फैसले

कांग्रेस के इस रवैये के बाद भाजपा कांग्रेस पार्टी पर हमलावर हो गई है। भाजपा अध्यक्ष ने बांका और नवादा की चुनावी रैलियों में कहा कि बहुमत मिलने के कारण ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह धारा 370, राम जन्मभूमि और ट्रिपल तलाक जैसे मुद्दों का समाधान करने में कामयाब हो सके।

JP Nadda slams Congress over demanding restoring article 370 in jammu kashmir

उन्होंने कहा कि बिहार में 40 में से 39 सीटों पर एनडीए को मिली जीत के कारण ही मोदी सरकार बड़े फैसले लेने में कामयाब हो रही है।

मोदी ने बदला सियासी मिजाज

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पहले चुनाव के दौरान भाषणों में जातिवाद, लड़ाई झगड़े को बढ़ावा देने और समाज को तोड़ने के प्रयास किए जाते थे मगर पीएम नरेंद्र मोदी के आने के बाद अब सबकुछ बदल गया है। अब जनप्रतिनिधि को चुनाव के दौरान जनता के बीच अपने काम का रिपोर्ट कार्ड दिखाना होता है।

ये भी पढ़ें- लड़कियों की शादी: उम्र पर जल्द होगा फैसला, PM मोदी ने कही ये बड़ी बात

उन्होंने कहा कि मोदी ने देश की राजनीतिक संस्कृति को बदल दिया है। यही कारण है कि बिहार अब लालटेन और जंगलराज से एलईडी युग और विकास की ओर बढ़ चला है।

अब मुद्दों को लटकाने का दौर खत्म

उन्होंने कहा कि बिहार में एक दौर वह भी था कि लोग सुरक्षित घर पहुंचने के लिए बजरंगबली की पूजा किया करते थे और लड्डू चढ़ाने की बात करते थे मगर एनडीए की सरकार बनने के बाद बिहार में सुशासन का राज कायम हुआ है।

उन्होंने कहा कि मुद्दों को लटकाना, भटकाना और अटकाना कांग्रेस का काम है। राम मंदिर मामले को कोर्ट में लटकाने की भरपूर कोशिश की गई मगर प्रधानमंत्री मोदी के दृढ़ इच्छा शक्ति के कारण राम मंदिर मुद्दे का हल निकालने में सरकार कामयाब रही। अब अयोध्या में जल्द ही जन आकांक्षाओं के अनुरूप भव्य राम मंदिर का निर्माण होगा।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App