जम्मू-कश्मीर की इस महिला ने पीएम मोदी से पूछा ये बड़ा सवाल

देशवासियों के लिए प्रेरणा बन चुकीं सात महिलाओं को ट्वीटर अकाउंट समर्पित करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘नारी शक्ति पुरस्कार’ से सम्मानित महिलाओं..

नई दिल्ली। देशवासियों के लिए प्रेरणा बन चुकीं सात महिलाओं को ट्वीटर अकाउंट समर्पित करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘नारी शक्ति पुरस्कार’ से सम्मानित महिलाओं से बातचीत की।

ये भी पढ़ें-केंद्र सरकार का दावा, मोदी राज में नहीं हुआ एक भी बम धमाका

इस दौरान महिलाओं को संबोधित करते हुए उन्होंने पूछा कि जब आपने अपना काम शुरू किया, तो आपने इसे एक मिशन के रूप में किया होगा या जीवन में कुछ मूल्यवान करने के लिए किया होगा या फिर बस आप वक्त के प्रवाह के साथ चलते चले गए होंगे।

मोदी के साथ बातचीत में अपनी सफलता की कहानी साझा की

 

आपने यह किसी इनाम के लिए नहीं किया, लेकिन आज आप दूसरों के लिए प्रेरणा बन गए हैं। इस दौरान कश्मीर से आईं आरिफा ने ‘नारी शक्ति पुरस्कार’ प्राप्त करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बातचीत में अपनी सफलता की कहानी साझा की।

ये भी पढ़ें-किसानों पर आई आपदा को लेकर सूबे की सरकार पर बरसे अखिलेश

उन्होंने कहा कि आम तौर जमीनी स्तर से शुरूआत करने वाले उद्यमियों के लिए सराहना पाना कठिन होता है। आपको बता दें की आज महिला अतंर्राष्ट्रीय महिला दिवस है। देश से लेकर विदेश तक महिला दिवस मनाई जाती है। जिसमें तमाम महिला संगठनों के  अलावा कई संगठनों के द्वारा महिला दिवस मनाई जाती है।

ये भी पढ़ें-केंद्र सरकार का दावा, मोदी राज में नहीं हुआ एक भी बम धमाका

स्कूल, कॉलेज, युनिवर्सिटी से लेकर तमाम तमाम ऑफिसों मे महिला दिवस को लेकर सेमिनार व भाषण प्रतियोगिता आयोजित की जाती है। जिसमें महिलाओं के हालात व स्थिती को लेकर वाद-विवाद किया जाता है। वहीं सभी संगठनों को किसी-किसी राज्यों की सरकारों के द्वारा पुरस्कृत भी किया जाता है।