LAC पर युद्ध: कभी भी हमला कर सकती हैं सेनाएं, भारत-चीन आमने-सामने

पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच सीमा विवाद जारी है। दोनों देशों की सेनाएं पैंगोंग झील के उत्तरी और दक्षिणी किनारे पर एक दूसरे के सामने खड़ी हो गयी हैं।

LAC Tensions India and china troops extremely close in pangong lake

LAC पर युद्ध (File Photo)

लखनऊ: भारत और चीन के बीच लद्दाख सीमा पर विवाद कम होने का नाम नहीं ले रहा। चीन की सेना लगातार एलएसी पर भारतीय सीमाओं पर कब्जा जताने की कोशिश कर रही हैं, तो भारतीय सेना सीमा पर मुस्तैदी से तैनाती है और हर कोशिश को नाकाम कर रही है। हालात ये हैं कि लद्दाख में पैंगोंग झील के उत्तरी और दक्षिणी किनारे दोनों देशों की सेनाएं कुछ ही मीटर की दूरी पर खड़ी है।

भारत और चीन के बीच सीमा विवाद जारी

पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच सीमा विवाद जारी है। दोनों देशों की सेनाएं पैंगोंग झील के उत्तरी और दक्षिणी किनारे पर एक दूसरे के सामने खड़ी हो गयी हैं। यहां ऐसे 4 प्लैश-प्वाइंट हैं, भारत और चीन की सेनाओं में तैनात जवानों के बीच मजह कुछ ही मीटर का फासला है।

India- China Depsang

दोनों देशो की सेनाओं के बीच मजह कुछ ही मीटर का दूरी

दोनों तरफ से बड़े पैमाने पर सेना हथियारों से लैश तैनात है। नजारा ऐसा है कि एक छोटी सी बात यहां जंग शुरू करवा सकती है।हालाँकि इसके पहले तक यहां शांति थी लेकिन 8 सितंबर को हुई गोलीबारी के बाद यहां हालात बिगड़ गए।

ये भी पढ़ेंः सबसे महंगी कंगना: 250-300 करोड़ का लगा है दांव, करोड़ों में इनकी जायदात

चेतावनी के तौर पर हवाई फायरिंग

चेतावनी के तौर पर यहां हवाई फायरिंग होती है। फिंगर तीन और फिंगर चार पर दोनों देशों की सेना के जवान खड़े हैं। दक्षिणी तट पर स्पंगगुर गैप, मुखपारी और रेयांग ला में सेना के बीच कुछ ही मीटर की दूरी है।

Lac army deploy

ये भी पढ़ेंः योगी सरकार का भ्रष्टाचार पर प्रहार, नहीं बचे IPS-IAS, इनपर गिरी गाज, देखें लिस्ट

फिंगर 4 पर तापमान माइनस 4 डिग्री

वहीं अब इस क्षेत्र में ठंड भी बढ़ती जा रही है, जो दोनों देशों की सेना के लिए किसी मुसीबत से कम नहीं। फिंगर 4 पर तापमान माइनस 4 डिग्री तक जा सकता है। अक्टूबर के बीच में झील की सतह पर पूरी तरह से जम जाती है। बताया जा रहा है कि लद्दाख के देपसांग और दौलत बेग ओल्डी क्षेत्र में न्यूनतम तापमान 14 डिग्री तक जा चुका है और अभी और कम होने की आशंका है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App