Top

धोनी पर बर्ड फ्लू का कहर, फार्म के लिए मंगवाए 2500 कड़कनाथ मुर्गे, मारे जाएंगे अब

झाबुआ के प्रसिद्ध कड़कनाथ मुर्गे में बर्ड फ्लू की पुष्टी हुई है। झाबुआ जिले थांदला तहसील के रूंडीपाड़ा गांव के निजी कड़कनाथ मुर्गीपालन क्षेत्र में मुर्गियों के बीमार पड़ने बाद सैम्पल जांच के लिए भेजे गए थे।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 13 Jan 2021 5:49 AM GMT

धोनी पर बर्ड फ्लू का कहर, फार्म के लिए मंगवाए 2500 कड़कनाथ मुर्गे, मारे जाएंगे अब
X
झाबुआ जिले थांदला तहसील के रूंडीपाड़ा गांव के निजी कड़कनाथ मुर्गीपालन क्षेत्र में मुर्गियों के बीमार पड़ने बाद सैम्पल जांच के लिए भेजे गए थे।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

भोपाल: मध्य प्रदेश समेत देश के कई राज्यों में बर्ड फ्लू का कहर जारी है। बर्ड फ्लू का कहर इतना बढ़ गया है कि टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी के मंगाए मुर्गों को भी मारा जा रहा है। धोनी ने 2500 कड़कनाथ मुर्गे के चूजों को आर्डर दिया था जिनको झाबुआ में मारा जाएगा।

यह कदम इसलिए उठाना है, क्योंकि उनके साथ रखे कुछ चूजों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है। कुछ चूजों की मौत हो गई जिसके बाद झाबुआ के पोल्ट्री फार्म से अन्य चूजों का सैंपल भोपाल जांच के लिए भेजा गया था।

गौरतलब है कि झाबुआ के प्रसिद्ध कड़कनाथ मुर्गे में बर्ड फ्लू की पुष्टी हुई है। झाबुआ जिले थांदला तहसील के रूंडीपाड़ा गांव के निजी कड़कनाथ मुर्गीपालन क्षेत्र में मुर्गियों के बीमार पड़ने बाद सैम्पल जांच के लिए भेजे गए थे। जांच में कड़कनाथ मुर्गे में (बर्ड फ्लू) H5N1 वायरस की पुष्टि हुई है। इसी पोल्ट्री फॉर्म से महेन्द्र सिंह धोनी ने कड़कनाथ मुर्गे के चूजे मंगवाए थे।

ये भी पढ़ें...तड़प-तड़पकर मरा किसान! धरनास्थल पर निगला जहर, कृषि कानून के खिलाफ दी जान

Kadaknath

पशुपालन विभाग (भोपाल) के संचालक ने झाबुआ प्रशासन को पत्र लिखकर उचित कार्रवाई करने के आदेश दिए हैं। बर्ड फ्लू की पुष्टि होने की वजह से पशुपालन विभाग की टीम गांव पहुंची। मुर्गीपालन क्षेत्र और उसके 1 किमी के दायरे में संक्रमण मुक्त करने के साथ-साथ सभी मृत मुर्गे-मुर्गियों को जमीन में दफनाया गया है।

ये भी पढ़ें...होगी मूसलाधार बारिश: पड़ेगी हाड़ कंपाने वाली ठंड, इन राज्यों में ऑरेंज अलर्ट जारी

इसके बाद आज यानी बुधवार को जीवीत मुर्गों को भी जमीन में दफना दिया जाएगा। इसके अलावा अंडों को नष्ट किया जाएगा। मिली जानकारी के मुताबिक, झाबुआ में बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के बाद पशु चिकित्सा विभाग और प्रशासनिक अमला रूंडीपाड़ा के कड़कनाथ फार्महाउस के मुर्गे और चूजों के अलावा आसपास के 8 घरों के 24 पक्षियों को मारा जाएगा।

ये भी पढ़ें...बंगाल में स्वामी विवेकानंद के नाम पर सियासी जंग, टीएमसी ने भाजपा पर कसा तंज

देश के 10 राज्यों में अब बर्ड फ्लू की पुष्टि हो चुकी है। केरल, राजस्थान, मध्यप्रदेश, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा, गुजरात, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, उत्तराखंड और महाराष्ट्र में इस वायरस संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story