शिवसेना कार्यकर्ताओं का बवाल: ये क्या! सरकार बनने से पहले तोड़फोड़

जानकारी के अनुसार सहायक पुलिस आयुक्त रवींद्र रासल ने बताया कि पूर्वाह्न करीब 11 बजे लगभग 35 कार्यकर्ता इफ्को टोकियो जनरल इंश्योरेंस कंपनी के कोरेगांव पार्क क्षेत्र स्थित कार्यालय में घुसे और तोड़फोड़ कर वहां से फरार हो गए।

पुणे: महाराष्ट्र के पुणे शहर से बड़ी खबर सामने आ रही है। यहां शिवसेना कार्यकर्ताओं ने आज फसल नुकसान को लेकर किसानों के बीमा दावों के निपटारे की मांग को लेकर एक निजी बीमा कंपनी के कार्यालय में जमकर तोड़फोड़ की है।

जानकारी के अनुसार सहायक पुलिस आयुक्त रवींद्र रासल ने बताया कि पूर्वाह्न करीब 11 बजे लगभग 35 कार्यकर्ता इफ्को टोकियो जनरल इंश्योरेंस कंपनी के कोरेगांव पार्क क्षेत्र स्थित कार्यालय में घुसे और तोड़फोड़ कर वहां से फरार हो गए। कोरेगांव पुलिस थाने के एक अधिकारी ने बताया कि इसमें कई कंप्यूटर, लैपटॉप, खिड़कियों के शीशे और फर्नीचर भी ध्वस्त कर दिए गये हैं।

ये भी पढ़ें—प्रदूषण मामले पर सुप्रीम कोर्ट की पंजाब सरकार को फटकार, कहा…

हमलावरों की पहचान कर रहे हैं: पुलिस

सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने बताया कि हमलावरों की मांग थी कि फसल नुकसान उठाने वाले किसानों को उनके बीमा दावे का भुगतान जल्द से जल्द किया जाए। वे शिवसेना के समर्थन में नारेबाजी कर रहे थे। हम हमलावरों की पहचान कर रहे हैं।

बता दें कि शिवसेना ने हाल में कहा था कि राज्य में करीब 50 लाख किसानों ने फसल बीमा लिया था। शिवसेना ने बीमा कंपनियों से कहा था कि वे बेमौसम वर्षा से प्रभावित किसानों को तत्काल सहायता मुहैया करायें।

ये भी पढ़ें—सैनिकों के इस चौकी पर हमला! असॉल्ट राइफल से लैस थे हमलावर

इसके लिए फड़णवीस ने बीते सोमवार को राजधानी दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से भी मुलाकात की थी। इस दौरान उन्होंने बेमौसम वर्षा से प्रभावित किसानों को होने वाले नुकसान के मुद्दे पर चर्चा की थी। उन्होंने बाद में कहा था कि शाह ने उन्हें बीमा कंपनियों के साथ बातचीत करने और प्रभावित किसानों की मदद का भरोसा दिया था। गौरतलब है कि महाराष्ट्र में नई सरकार के गठन को लेकर अभी तक कोई स्थिति साफ नहीं हो सकी है।