नागरिकता कानून: राष्ट्रपति से मिलेंगी BSP प्रमुख मायावती, जानिए क्या करेंगी मांग

बीएसपी प्रमुख  मायावती नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को वापस लेने के लिए आज राष्ट्रपति से मुलाकात करेंगी। मायावती के साथ बीएसपी प्रतिनिधिमंडल बुधवार को सुबह साढ़े दस बजे राष्ट्रपति से मुलाकात करके अपनी मांग रखेगा।

नई दिल्ली:  बीएसपी प्रमुख  मायावती नागरिकता संशोधन कानून (CAA) को वापस लेने के लिए आज राष्ट्रपति से मुलाकात करेंगी। मायावती के साथ बीएसपी प्रतिनिधिमंडल बुधवार को सुबह साढ़े दस बजे राष्ट्रपति से मुलाकात करके अपनी मांग रखेगा।नागरिकता कानून को लेकर देशभर में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं तो विपक्षी दल भी केंद्र सरकार से लगातार इसे वापस लेने की मांग कर रहे हैं। उधर, समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने नागरिकता कानून को बीजेपी का राजहठ बताया है। संशोधित कानून के खिलाफ विरोध कर रहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस चीफ ममता बनर्जी भी कोलकाता में रैली जारी रखेंगी।

मायावती ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से इसकी जानकारी देते हुए लिखा, ‘केंद्र सरकार के नए नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में और इसको वापस लेने के लिए आज सुबह साढ़े 10 बजे अपनी पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देशन में बीएसपी का संसदीय दल माननीय राष्ट्रपति जी से मिलकर अपनी बात रखेगा।

 

यह पढ़ें…मिशन चंद्रयान-3 की जिम्मेदारी संभालेंगी ये साइंटिस्ट, हटाई गयीं एम वनिता

मायावती ने इससे पहले भी सरकार से नागरिकता कानून को वापस लेने की मांग की थी। उन्होंने संशोधित कानून में मुस्लिम समाज की उपेक्षा करने का आरोप लगाया था। मायावती ने कहा था, ‘नागरिकता संशोधन विधेयक के पास हो जाने के बाद से ही देशभर में हिंसक प्रदर्शन हो रहे हैं। ऐसा प्राय: तभी होता है जब सरकार अपने स्वार्थ में, देश के संविधान को भी ताक पर रखकर किसी खास समुदाय और धर्म के लोगों की उपेक्षा करती है। जिससे हमारी पार्टी बिलकुल सहमत नहीं है।’

मायावती ने मांग की थी कि केंद्र सरकार को इस कानून को देश के हित में वापस लेना चाहिए। पाकिस्तान में हिन्दुओं के साथ जो ज्यादती हुई, उसका बदला बीजेपी वर्तमान केंद्र सरकार भारत के मुसलमानों से लेना चाहती है। अखिलेश यादव ने भी नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करते हुए इसे बीजेपी का हठ बताया है। अखिलेश ने ट्विटर पर लिखा, ‘CAA की वजह से दुनिया भर में हमारे देश की छवि को क्षति हुई है।

यह पढ़ें…जामिया हिंसा: पूर्व MLA समेत इन नेताओं ने भड़काई हिंसा! पुलिस ने दर्ज की FIR